जबलपुर. कांग्रेस चीफ राहुल गांधी ने मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर जमकर हमला बोला. उन्होंने एक पुराने मर्डर केस को उठाया, जिसमें अमित शाह 5 साल पहले ही बरी हो चुके हैं. इसके अलावा उनके बेटे जय शाह पर भी निशाना साधा. बीजेपी अध्यक्ष ने भी जमकर पलटवार करते हुए कहा कि कोर्ट का फैसला ‘राजनीतिक तौर पर प्रेरित’ था. अमित शाह ने राहुल गांधी की कानूनी मामलों में समझ पर भी सवाल खड़े किए.

जबलपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, ”बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह हत्यारोपी हैं…वाह! क्या शान है…क्या आपने जय शाह का नाम सुना है? वह जादूगर है. उसने 3 महीने में 50000 रुपयों को 80 करोड़ कर दिया.” अमित शाह का नाम साल 2005 में सोहराबुद्दीन शेख के कथित फर्जी एन्काउंटर में आया था. लेकिन 2014 में कोर्ट ने कहा कि शाह के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं हैं. ट्रायल कोर्ट के आदेश को सीबीआई द्वारा चुनौती नहीं देने के खिलाफ एक याचिका को बॉम्बे हाई कोर्ट ने खारिज कर दिया था.

राहुल गांधी की टिप्पणियों पर अमित शाह ने कहा, ”मेरे खिलाफ झूठा मुकदमा दायर किया गया, जिसमें कोर्ट अपना फैसला दे चुका है. संक्षेप में आदेश यह था कि मामला राजनीतिक तौर पर प्रेरित था, जिसमें मेरे खिलाफ कोई सबूत नहीं था. मैं राहुल गांधी की कानूनी समझ पर ज्यादा टिप्पणी नहीं करना चाहता.” इससे पहले भी कांग्रेस ने इस केस के लिए जरिए अमित शाह पर हमला करने की कोशिश की है. बीजेपी ने कहा कि यह छवि खराब करने की कोशिश थी.

दो साल पहले अमित शाह के कारोबारी बेटे जय शाह पर आरोप लगे कि साल 2014 में बीजेपी के सत्ता में आने पर उन्हें बिजनेस में काफी फायदा हुआ. इसके बाद जय शाह ने न्यूज वेबसाइट द वायर पर 100 करोड़ रुपये का मानहानि का मुकदमा ठोका था. द वायर ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि बीजेपी के सत्ता में आने के बाद जय शाह की कंपनी का प्रॉफिट 16000 गुना बढ़ गया. रिपोर्ट में कहा गया कि शाह की कंपनी को कथित तौर पर असुरक्षित लोन दिए गए.

Hans Raj Hans North West Delhi BJP Candidate: बीजेपी ने नॉर्थ वेस्ट दिल्ली से पंजाबी सिंगर हंसराज हंस को चुनाव लड़ाया, दलित नेता उदित राज का टिकट कटा

PM Narendra Modi Votes In Gujarat: अहमदाबाद में वोट डालने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी बोले- आईईडी से ज्यादा ताकतवर है वोटर आईडी, देश की जनता अपने मताधिकार का करें इस्तेमाल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App