लखनऊ. लोकसभा 2019 चुनाव से पहले कांग्रेस ने बड़ा दांव चलते हुए प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश का महासचिव नियुक्त किया है. वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया को पश्चिमी यूपी का भार सौंपा गया है. प्रियंका गांधी ने शनिवार को यूपी कांग्रेस चीफ राज बब्बर और गुलाम नबी आजाद के साथ बैठकर राज्य की 80 लोकसभा सीटों पर मंथन किया. इसमें तय हुआ कि प्रियंका पूर्वी यूपी में 42 सीट और सिंधिया पश्चिमी यूपी की 38 सीटों पर दम दिखाएंगे. प्रियंका गांधी के लिए शुरुआत उन्नाव से होगा, जहां बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर 16 साल की लड़की से रेप के आरोपों का सामना कर रहे हैं.

11 फरवरी को लखनऊ में प्रियंका गांधी रोड शो करेंगी. उनके साथ सिधिंया और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी भी होंगे. वहीं रायबरेली में प्रियंका चार दिन रुक सकती हैं. वह 12, 13 और 14 फरवरी को लखनऊ स्थित पार्टी दफ्तर में कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और सीएम योगी आदित्यनाथ का गढ़ गोरखपुर प्रियंका के लिए प्राथमिकता है. क्षेत्रवार बैठकों से संकेत मिलता है कि कांग्रेस बैकफुट पर खेलने के मूड में नहीं है. पहले अनुमान लगाया जा रहा था कि कांग्रेस उस जगह सॉफ्ट और डमी उम्मीदवार उतार सकती है, जहां बसपा-सपा के उम्मीदवार मजबूत हैं. 

इससे पहले गुरुवार को राहुल गांधी की अगुआई में हुई ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी की बैठक में प्रियंका गांधी भी शामिल हुई थीं. सूत्रों के मुताबिक इस मीटिंग में राहुल ने कहा कि 2 महीने में होने वाले लोकसभा चुनावों में किसी चमत्कार की उम्मीद न रखें. उन्होंने प्रियंका और सिंधिया से कहा कि राज्य चुनाव पर ज्यादा ध्यान दें.

Rahul Gandhi in Madhya Pradesh: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मध्य प्रदेश की आभार रैली में बोले- रक्षा मंत्रालय का हर अधिकारी कहता है चौकीदार चोर है

Rahul Gandhi Press Conference Highlights: नरेंद्र मोदी पर राहुल गांधी का हमला, बोले- राफेल घोटाले में पीएम का हाथ

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App