नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम आने से पहले मंगलवार को विपक्षी दलों के नेता दिल्ली में बैठक करने जा रहे हैं. इस दौरान वर्तमान राजनीतिक हालात और गैर एनडीए गठबंधन सरकार बनाने की संभावनाओं समेत ईवीएम हैकिंग के मुद्दे पर बात होगी. पिछले कुछ समय से आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलुगूदेशन पार्टी के नेता चंद्रबाबू नायडू लगातार विपक्षी नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं. इसी कड़ी में पिछले दिनों उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से उनके कोलकाता स्थित घर जाकर बात की थी.

सूत्रों के मुताबिक परिणाम अगर त्रिशंकु आते हैं तो ऐसे में कैसे सरकार बनेगी और कौन-कौन सरकार का हिस्सा होगा इस बारे में चर्चा की गई और सरकार बनाने की सभी संभावनाओं पर विचार-विमर्श किया जा रहा है. चंद्रबाबू नायडू इससे पहले दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी से मुलाकात कर चुके हैं साथ ही सथ उन्होंने शरद पवार, मायावती और अरविंद केजरीवाल से भी सरकार बनाने की संभावनाओं पर चर्चा की थी.

हालांकि अभी साफ नहीं है कि किस पार्टी की तरफ से कौन सा नेता इस बैठक में शामिल होगा. लेकिन इतना जरूर है कि बीजेपी और एनडीए के खिलाफ विपक्षी दल एकजुट होने की पूरी कोशिश करेंगे. जानकारी के मुताबिक मंगलवार को विपक्ष के नेता चुनाव आयोग भी जाने वाले हैं जहां वो सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के मुताबिक वीवीपैट से पर्चियों के मिलान वाले आदेश को अमल में लाने की गुजारिश करेंगे.

दरअसल विपक्ष की याचिका पर फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि हर विधानसभा में आने वाले किन्हीं पांच बूथों पर वीवीपैट पर्चियों से मिलान किया जाएगा. इससे पहले विपक्षी के नेताओं ने ईवीएम से छेड़छाड़ की संभावनाओं के मद्देनजर मांग की थी कि चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता लाने के लिए वीवीपैट पर्चियों का इस्तेमाल बैलेट पेपर की तरह किया जाना चाहिए. 23 मई को लोकसभा चुनाव का परिणाम आने वाला है.

Rajiv Gandhi 28th Death Anniversary: आईटी क्षेत्र में काम करने वाले हर शख्स की आखों में पल रहा है राजीव गांधी का देखा हुआ सपना

No Surgical Strike in Congress UPA Manmohan Singh Government: 2016 से पहले कांग्रेस यूपीए मनमोहन सिंह की सरकार में नहीं हुई सर्जिकल स्ट्राइक, सेना ने आरटीआई के जवाब में किया खुलासा- नरेंद्र मोदी सरकार में हुई पहली स्ट्राइक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App