श्रीनगर. बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती द्वारा कांग्रेस के साथ 2019 लोकसभा चुनाव में गठबंधन के लिए मना करने के बाद जम्मू-कश्मीर में नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) नेता उमर अब्दुल्ला ने कांग्रेस के लिए कड़ी शर्तें रख दी हैं. अब्दुल्ला ने कहा कि कांग्रेस से साफ तौर पर कहा गया है कि एनसी उम्मीदवार ही कश्मीर घाटी की सभी 3 सीटों पर खड़े होंगे. जम्मू-कश्मीर में 6 लोकसभा सीट हैं, जिनमें से 3 कश्मीर, 2 जम्मू और एक लद्दाख में है.

उन्होंने माना कि कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर में लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन का प्रस्ताव भेजा था. लेकिन हमने उन्हें अपनी शर्त बता दी. उन्होंने कहा, अगर कांग्रेस इस शर्त पर हामी भरती है तो एनसी उनसे अन्य सीटों पर बातचीत कर सकती है. उन्होंने कहा, ”देखते हैं, उनका क्या जवाब आता है.” 3 लोकसभा सीट हैं नॉर्थ कश्मीर, सेंट्रल कश्मीर और साउथ कश्मीर.

इस बीच सूत्रों ने बताया कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी), राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) और लेफ्ट कांग्रेस द्वारा गठबंधन पार्टियों से बातचीत को लेकर नाखुश हैं. रविार को यूपी में अखिलेश यादव और मायावती के सपा-बसपा गठबंधन को लुभाने के लिए कांग्रेस ने कहा कि वह राज्य की 7 अहम सीटों पर अपना उम्मीदवार खड़ा नहीं करेगी और इन्हें सपा-बसपा गठबंधन के लिए छोड़ा जाएगा.

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता राज बब्बर ने कहा, ”हम सपा-बसपा और आरएलडी गठबंधन के लिए 7 सीटें छोड़ रहे हैं. इन सीटों में मैनपुरी, कन्नौज, फिरोजाबाद या जो भी सीट, जहां से मायावती, जयंत चौधरी और अजीत सिंह लड़ेंगे. हम दो सीट -गोंडा और पीलीभीत भी अपना दल के लिए छोड़ रहे हैं.”

दूसरी ओर बिहार में एनडीए में शामिल तीनों दलों का विचार-विमर्श के बाद रविवार को सीटों का बंटवारा हो गया. बिहार की 40 लोकसभा सीटों पर बीजेपी और जेडीयू 17-17 सीट पर चुनाव लड़ेगी. वहीं लोक जनशक्ति पार्टी को 6 सीट दी गई हैं. बीजेपी के पास पटना और पाटलीपुत्र सीट आई हैं. जबकि मुंगेर सीट पर जेडीयू उम्मीदवार लड़ेगा.

भाजपा पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, मधुबनी, अररिया, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, महराजगंज, सारण, उजियारपुर, बेगूसराय, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, औरंगाबाद और सासाराम लोकसभा सीटों से अपने प्रत्याशी उतारेगी.

वहीं जेडीयू के हिस्से वाल्मीकिनगर, सीतामढ़ी, झंझारपुर, सुपौल, किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, मधेपुरा, गोपालगंज, सीवान, भागलपुर, बांका, मुंगेर, नालन्दा, काराकाट, जहानाबाद और गया लोकसभा सीटें आई हैं. लोजपा को हाजीपुर, वैशाली, समस्तीपुर, खगड़िया, जमुई और नवादा सीटें दी गई हैं.

Bhim Army Refuses To Ally With Congress: लोकसभा 2019 चुनाव में राहुल गांधी की कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेगी चंद्रशेखर आजाद की भीम आर्मी

Lokpal Justice PC Ghosh: सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज पीसी घोष होंगे देश के पहले लोकपाल, कल होगी घोषणा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App