नई दिल्ली. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने 2019 लोकसभा चुनावों से पहले सनसनीखेज खुलासा किया है. कुशवाहा ने बताया, नीतीश कुमार ने उनसे कहा कि वह 2020 विधानसभा चुनावों के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नहीं रहना चाहते. कुशवाहा ने सरदार पटेल की जयंती पर पटना में हुए एक पार्टी कार्यक्रम में शामिल हुए नीतीश कुमार के हवाले से कहा, ”मैं कोई राजनीति नहीं कर रहा, ना ही मुख्यमंत्री पर कटाक्ष कर रहा हूं लेकिन नीतीश कुमार ने खुद मुझे बताया कि वह 2020 के बाद मुख्यमंत्री नहीं रहना चाहते. मैंने 15 साल राज कर लिया है, मैं और कितने दिन मुख्यमंत्री रहूंगा.”

मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार ने ‘भारी दिल’ से यह बातें कही थीं. यह बयान किसी सरप्राइज से कम नहीं है, क्योंकि न तो नीतीश कुमार और न ही जेडीयू में से किसी ने इस संभावना के बारे में कभी कुछ कहा है. जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने कुशवाहा के दावे को को खारिज करते हुए कहा कि नीतीश कुमार जनादेश और विधायकों की पसंद से मुख्यमंत्री बने हैं.

राज्य में फिलहाल आरएलएसपी बीजेपी की अगुआई वाले एनडीए का हिस्सा है, जिसकी अन्य सहयोगी नीतीश कुमार की जेडीयू और रामविलास पासवान की एलजेपी है. यह पहली बार नहीं है जब उपेंद्र कुशवाहा ने भविष्य के लिए नीतीश कुमार के बतौर मुख्यमंत्री सवाल उठाए हैं. जुलाई में उन्होंने नीतीश कुमार के 2020 के विधानसभा चुनावों में एनडीए के मुख्यमंत्री के तौर पर जाने को लेकर सवाल उठाए थे.

Bihar NDA Seat Sharing: बिहार में सीट शेयरिंग पर बवाल के बीच उपेंद्र कुशवाहा ने मध्य प्रदेश चुनाव में बीजेपी के खिलाफ उतारे 66 कैंडिडेट

RBI Officers on Government Interference: सीबीआई के बाद अब आरबीआई में बवाल, उच्च अधिकारियों ने केंद्र सरकार पर लगाए दखलंदाजी के आरोप