नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मालेगांव 2008 ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भोपाल से टिकट दिए जाने का बचाव किया. उन्होंने कहा कि यह उन सभी को जवाब है, जिन्होंने हिंदू सभ्यता को आतंकवादी बताया और इससे कांग्रेस को झटका जरूर लगेगा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस झूठे मामले गढ़ने जैसी कार्यप्रणाली पर काम करती है, जैसे समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट और जस्टिस बीएच लोया की मौत.

ब्लास्ट मामले में जमानत पर बाहर प्रज्ञा ठाकुर का बचाव करते हुए पीएम ने कहा कि ऐसे सवाल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी से क्यों नहीं पूछे जाते, जो खुद जमानत पर बाहर हैं. एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में पीएम ने कहा कि एक साध्वी को इस तरह यातनाएं दी गई. समझौता ब्लास्ट मामले पर फैसला आया, क्या निकला? बिना किसी सबूत के 5 हजार साल पुरानी सभ्यता, जिसने एक दुनिया का नारा दिया, उसे आतंकवादी बता दिया जाता है. ऐसे लोगों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए प्रज्ञा ठाकुर को उतारा गया है, जिससे कांग्रेस को नुकसान पहुंचेगा.

बुधवार को साध्वी प्रज्ञा ने भाजपा जॉइन की थी और उन्हें कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल से उतारा गया है. पीएम मोदी ने आगे कहा, मैं गुजरात में रहा. मैं कांग्रेस की कार्यप्रणाली को समझ गया. जैसे फिल्म की स्क्रिप्ट होती है, वे भी स्क्रिप्ट लिखते हैं. वह जगह चुनते हैं और हीरो और विलेन को फिल्म बनाने के लिए ले आते हैं. इसी कारण एन्काउंटर्स को नकली बताया गया. जस्टिस लोया की मौत प्राकृतिक थी लेकिन इस कार्यप्रणाली के कारण केस कत्ल का बनाया गया. ईवीएम मामले में भी उन्होंने इसी के तहत काम किया.

पीएम मोदी ने कहा, साल 1984 में जब पूर्व पीएम इंदिरा गांधी की हत्या हुई तो उनके बेटे राजीव गांधी ने कहा था कि जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो जमीन हिलती है. इसके बाद हजारों सिखों का दिल्ली में कत्लेआम किया गया. क्या यह कुछ लोगों का आतंकवाद नहीं था? इसके बावजूद राजीव गांधी को प्रधानमंत्री बनाया गया. न्यूट्रल मीडिया ने कभी यह सवाल नहीं पूछे जो अब पूछ रहा है.

Poorva Express derails In Kanpur: हावड़ा से दिल्ली आ रही पूर्वा एक्सप्रेस कानपुर के पास पटरी से उतरी, हादसे में 25 लोग घायल, कई ट्रेनें रद्द

Congress Leader Controversial Statement: कांग्रेस विधायक लालजीत राठिया का विवादित बयान- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फांसी पर लटका देना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App