नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शाम 7 बजे राष्ट्रपति भवन में दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही उनके मंत्रिमंडल ने भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के समक्ष मंत्री पद और गोपनीयता की शपथ ली है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी समेत 24 नेताओं को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. इसके अलावा 9 मंत्रियों को राज्यमंत्री (स्वातंत्र प्रभार) और 24 मंत्रियों को राज्यमंत्री बनाया गया है. दक्षिण भारत की बात करें तो कर्नाटक में बेलगाम सीट से सांसद डी वी सदानंद गौड़ा, कर्नाटक से प्रहलाद जोशी और तमिलनाडु से निर्मला सीतारमण को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. इसके अलावा सुरेश अंगाड़ी, जी. कृष्ण रेड्डी और वी मुरलीधरन को राज्यमंत्री बनाया गया है.

2019 के लोकसभा चुनाव में मिली प्रचंड बहुमत के बाद आज 30 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन राष्ट्रपति भवन में किया गया. शपथ समारोह में सबसे पहले प्रधानमंत्री ने शपथ ली. पीएम मोदी की नई सरकार में कुल पीएम मोदी समेत 58 नेताओं को मंत्री बनाया गया है. पीएम मोदी के शपथ लेने के बाद राजनाथ सिंह, अमित शाह समेत 24 सांसदों को कैबिनेट मंत्री पद की शपथ दिलाई गई. पीएम मोदी के मंत्रिमंडल की बात करें तो इसमें 24 कैबिनेट मंत्री, 9 राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 24 राज्यमंत्री शामिल किए गए हैं. दक्षिण भारत राज्यों में से 6 नेताओं को मंत्री बनाया गया है. इनमें से निर्मला सीतारमण, प्रहलाद जोशी और  सदानंद गौड़ा को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है और जी कृष्णन रेड्डी, सुरेश अंगाड़ी और वी मुरलीधरन को राज्यमंत्री की जिम्मेदारी दी गई है.

सबसे ज्यादा कर्नाटक राज्य से तीन नेताओं को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है. तेलंगाना, तमिलनाडु और केरल से एक-एक नेता को मंत्री बनाया गया है. पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल में कर्नाटक से प्रहलाद जोशी, सदानंद गौड़ा और तमिलनाडु से निर्मला सीतारमण को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. इसके अलावा कर्नाटक से ही सुरेश अंगाड़ी को राज्यमंत्री बनाया गया है. तेलंगाना से जी. कृष्ण रेड्डी और केरल से वी मुरलीधरन को भी राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में जगह पाने वाले दक्षिण भारत के नेताओं के बारे में संक्षिप्त जानकारी

सदानंद गौड़ा
सदानंद गौड़ा ने केंद्रीय मंत्री पद की शपथ ली. पिछले 2014 के लोकसभा चुनाव में डीवी सदानंद गौड़ा ने बेंगलुरु उत्तर सीट से कांग्रेस के सी नारायण स्वामी को करीब ढाई लाख वोटों से हराया था. सदानंद गौड़ा को पिछली मोदी सरकार में रेल मंत्री बनाया गया था और उसके बाद 2016 जुलाई में हुए कैबिनेट की फेरबदल में कानून मंत्री बनाया गया. 2011 में जब बीएस येदियुरप्पा कर्नाटक के सीएम पद से हटे थे तब उनके बाद सदानंद गौड़ा मुख्यमंत्री बने थे.

निर्मला सीतारमण

निर्मला सीतारमण ने केंद्रिय मंत्री पद की शपथ ली. निर्मला सीतारमण पीएम नरेंद्र मोदी के पिछले कार्यकाल में रक्षा मंत्रालय का पदभार संभाल चुकी हैं. निर्मला सीतारमण का जन्म तमिलनाडु के मदुरई जिले में हुआ था. निर्मला सीतारमण ने अर्थशास्‍त्र में ग्रेजुएशन किया है. निर्मला सीतारमण ने दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी से मास्‍टर्स की डिग्री ली है.

प्रहलाद वेंकटेश जोशी
प्रहलाद वेंकटेश जोशी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के समक्ष केंद्रीय मंत्री पद की शपथ ली. प्रहलाद वेंकटेश जोशी लगातार चार बार सांसद रहे हैं. प्रहलाद वेंकटेश जोशी एथिक्स कमेटीके अध्यक्ष रहे हैं. प्रहलाद वेंकटेश जोशी कर्नाटक बीजेपी के अध्यक्ष भी रहे हैं. लोकसभा की कार्यवाही भी संचालित कर चुके हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में प्रहलाद जोशी ने कांग्रेस के विनय कुलकर्णी को 2 लाख से ज्यादा वोटों से हराया था.

जी. कृष्णन रेड्डी
कृष्णन रेड्डी ने राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली. 2019 के लोकसभा चुनाव में जी. कृष्णन रेड्डी ने तेलंगाना की सिकंदराबाद लोकसभा सीट पर टीआरएस प्रत्याशी तालासनी किरन यादव को 62114 वोटों के अंतर से हराया था. जी. कृष्णन रेड्डी तेलंगाना बीजेपी के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. जी. कृष्णन रेड्डी ने पहली बार सांसद बने हैं. जी. कृष्णन रेड्डी राष्ट्रीय युवा मोर्चा के अध्यक्ष रह चुके हैं. कृष्णन रेड्डी तीन बार बीजेपी विधायक भी रहे हैं.

सुरेश अंगाड़ी
सुरेश अंगाड़ी ने राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली. 2019 के लोकसभा चुनाव में सुरेश अंगाड़ी ने कांग्रेस प्रत्याशी डॉ साधुवार को 391304 वोटों से हराया है. सुरेश अंगाड़ी 2004 में पहली बार सांसद बने. सुरेश अंगाड़ी कर्नाटक के बेलगाम से सांसद बने हैं. सुरेश अंगाड़ी लॉ ग्रेजुएट और एक बिजनेसमेन हैं. सुरेश अंगाड़ी लगातार चार बार से सांसद हैं. सुरेश अंगाड़ी बेलगाम में एजुकेशन सेंटर चलाते हैं.

वी मुरलीधरन
वी मुरलीधरन ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की थी. वी मुरलीधरन बीजेपी के केरल अध्यक्ष भी रहे. वी मुरलीधरन फिलहाल महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद हैं. वी मुरलीधरन केरल में भाजपा के चौथे नेता हैं जो राज्यसभा पहुंचे थे.

खास बात है कि तमिलनाडु में एनडीए की सहयोगी एआईएडीएमके को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है. कयास लगाए जा रहे थे कि तमिलनाडु के डिप्टी सीएम पनीरसेल्वम के बेटे ओ.पी रविंद्रनाथ को मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है. 2019 लोकसभा चुनाव में एआईएडीएमके को एक ही सीट मिली थी, जिसपर ओ.पी रविंद्रनाथ ने जीत हासिल की थी.

Narendra Modi Govt New Ministers: उत्तर प्रदेश से राजनाथ सिंह, महेंद्र नाथ पांडेय, स्मृति ईरानी समेत कुल 8 नेता नरेंद्र मोदी सरकार के मंत्री परिषद में शामिल

Narendra Modi Govt New Ministers: नरेंद्र मोदी सरकार में गिरिराज सिंह गजेंद्र सिंह शेखावत किरेन रिजिजू का प्रोमोशन 36 मंत्रियों की छुट्टी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App