नई दिल्ली. देशभर में हुए लोकसभा चुनाव पूरे होने के बाद कुछ ही घंटों में देश में किसकी सरकार बनेगी और किसको फिर पांच साल का इंतजार करना होगा वो आज तय हो जाएगा. वहीं तमाम राज्यों में वोटिंग की गिनती चालू है. इसके साथ ही नागालैंड में भी 11 अप्रैल को 2019 के लोकसभा चुनाव के पहले चरण में मतदान किया गया था. राज्य में चुनावी मैदान के प्रमुख दावेदार नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी), नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) और कांग्रेस हैं. कांग्रेस के के एल चिशी एनपीपी के हेइथुंग तुंगो और एनडीपीपी के तोखेहो यप्थोमी के खिलाफ थे, जो राज्य के मौजूदा सांसद भी हैं. वहीं नीफिउ रियो नागालैंड के वर्तमान मुख्यमंत्री हैं. 2018 के विधानसभा चुनाव से पहले नेफियू ने नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) छोड़ दिया और नए-नवेले एनडीपीपी में शामिल हो गए थे.

वहीं इससे पहले 2014 के लोकसभा चुनावों में एनपीएफ के नेफियू रियो ने सीट पर चुनाव जीता था और कांग्रेस के के वी पूसा को चार लाख से ज्यादा मतों के अंतर से हराया था. इसके साथ ही फरवरी 2018 में होने वाले विधानसभा चुनावों में सीएम रियो द्वारा इस्तीफा देने के बाद उपचुनावों में येप्थोमी विजयी हुए थे. 2009 में एनपीएफ के चोंगशेन मोंगकोसुंगकुम ने कांग्रेस के के असंगबा संगतम पर 4.8 लाख मतों के अंतर से जीत दर्ज कराई थी. इसके साथ ही बता दें कि 2018 के विधानसभा चुनावों में एनपीएफ को 60 विधानसभा सीटों में से 27 और 39.1 प्रतिशत वोट मिले थे.

उस वक्स में NDPP और BJP ने क्रमशः 17 और 12 सीटें जीतीं थी. एनडीपीपी के संस्थापक नीफिउ रियो को उत्तरी अंगामी द्वितीय निर्वाचन क्षेत्र से निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया था. इसके अलावा 60 विधानसभा क्षेत्रों में से 59 अनुसूचित जनजाति के लिए और एक सामान्य उम्मीदवार के लिए आरक्षित हैं. नागा समझौते जिसे फ्रेमवर्क समझौते के रूप में भी जाना जाता है, नागालैंड में सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक है. इसके साथ ही उग्रवाद को समाप्त करने के लिए 2015 में भारत सरकार और नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालिम (NSCN) में समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे.

इसके साथ ही जानकारी के लिए बता दें कि नागालैंड पश्चिम में असम राज्य, अरुणाचल प्रदेश और उत्तर में असम, पूर्व में म्यांमार और दक्षिण में मणिपुर की सीमाए हैं. राज्य में 16 जनजातियाँ निवास करती हैं, जो हैं अंगामी, एओ, चकेसांग, चांग, खियामिनुंगन, कोन्याक, लोथा, फ़ोम, पोचुरी, रेंग्मा, संग्टम, सूमी, यमचूंगर, ज़ेमे-लिआंगमाई (ज़ेलियांग), डिमासा कचहरी, कूकी और रेंग्मे. यह 1 दिसंबर 1963 को भारत का 16 वां राज्य बना था.

Meghalaya Lok Sabha Elections 2019 Results Live Updates: मेघालय लोकसभा चुनाव 2019 के विजेताओं की हार जीत की लाइव लिस्ट, बीजेपी कांग्रेस में कौन आगे पीछे

Assam Lok Sabha Election Results 2019: असम लोकसभा चुनाव 2019 के विजेताओं की हार जीत की लाइव लिस्ट, बीजेपी एजीपी बीपीएफ एनडीए कांग्रेस, एआईयूडीएफ में कौन आगे-पीछे