कोलकाता. मंगलवार को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में अमित शाह के रोड शो में जमकर हंगामा हो गया. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह जिस गाड़ी पर सवार थे, उस पर भी डंडे फेंके गए. इसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्जी किया जिसके बाद शाह का रोड शो खत्म हो गया. आज अमित शाह की तीन जगह रैलियां होने वाली थीं. लेकिन जाधवपुर में उन्हें रैली की अनुमति नहीं मिली न ही उनका हेलीकॉप्टर उतरने दिया गया. कोलकाता में रोड शो से पहले भी बीजेपी के पोस्टर और बैनर हटा दिए गए थे जिससे बीजेपी नेता भड़क गए थे.

रोड शो में हुए हमले के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह  ने टीएमसी कार्यकर्ताओं की इस हरकत की कड़ी निंदा की. उन्होंने कहा  कि बीजेपी की इस रैली को कोलकाता में जबरदस्त रिस्पांस मिला, जिसकी वजह से टीएमसी के कार्यकर्ताओं में काफी गुस्सा था और उन्होंने हमला कर दिया. मैं भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने ये सब होने के बाद रोड शो का सफल आयोजन किया. साथ ही उन्होंने कहा कि वह पश्चिम बंगाल की जनता से अपील करेंगे कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने जो हिंसा की है, उसका जवाब जनता चुनाव के आखिरी चरण में देगी. राज्य में हिंसा को समाप्त करने के लिए टीएमसी को सत्ता से बाहर करना आवश्यक है.

पश्चिम बंगाल के जॉय नगर में रैली करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा,”23 तारीख को बंगाल में 23 से ज्यादा सीटें भाजपा जीतने जा रही है. बंगाल और देश की जनता मोदीजी को प्रधानमंत्री देखना चाहती है. मेरी ममताजी को सलाह है कि गुस्सा बढ़ाने से बीपी बढ़ जाता है और ऐसा करना इस उम्र में ठीक नहीं है. इसे बंद कर दें. कहीं पर भी हमने विपक्ष के साथ ऐसा व्यवहार नहीं किया.” रोड शो से पहले कुछ लोगों ने मोदी और शाह के पोस्टरों को हटा दिया गया. बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इसके पीछे ममता सरकार का हाथ बताया. उन्होंने कहा, ”मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के गुंडों और पुलिस ने पोस्टर और झंडे निकाल दिए. जैसे ही हम लोग
पहुंचे वे यहां से भाग गए.”

ममता ने हेलिकॉप्टर को उतरने की इजाजत नहीं दी थी सातवें चरण में बंगाल की 9 सीटों पर मतदान होना है. इसके मद्देनजर शाह की सोमवार को तीन रैलियां होनी थीं, लेकिन उन्हें जाधवपुर में हेलिकॉप्टर उतारने की अनुमति नहीं मिली थी. इसके बाद शाह ने जॉय नगर में जनसभा की थी. यहां उन्होंने कहा, “मेरी यहां तीन रैलियां होनी थीं. जॉयनगर में तो आ गया मगर दूसरी जगह ममता दीदी के भतीजे की सीट थी. वहां पर हमारे जाने से ममता जी डरती हैं कि भाजपा वाले इकट्ठे होंगे तो भतीजे का तख्त उल्टा हो जाएगा. इसलिए उन्होंने सभा की इजाजत नहीं दी.”

योगी को सभा के लिए मिली अनुमति भी वापस ली गई पश्चिम बंगाल में योगी आदित्यनाथ की सभाओं की अनुमति को भी रद्द कर दिया गया है. पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने सोमवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि 15 मई को योगी दक्षिण पश्चिम कोलकाता में बेहाला इलाके में जेम्स लॉग सारानी में जनसभा करने वाले थे. प्रशासन ने पहले इसके लिए अनुमति दे दी थी, लेकिन सोमवार को इसे वापस ले लिया गया. योगी को इसी दिन उत्तर 24 परगना जिले के हावड़ा में एक और उत्तर कोलकाता के फूलबागान में एक रैली को संबोधित करना था. राज्य में लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में 19 मई को वोट डाले जाएंगे.

Lok Sabha Elections 2004 Results Winners Full List: 2004 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस, बीजेपी, कम्युनिस्ट पार्टी, यूपीए, एनडीए को मिली कितनी सीट और कितना वोट

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App