उत्तर प्रदेश: राजनीतिक का एक दुर्लभ संयोग आज उस वक्त देखने को मिला जब 24 सालों के बाद मायावती और मुलायम सिंह एक साथ एक ही मंच पर नजर आए. जगह थी मैनपुरी जो मुलायम सिंह यादव का गढ़ है और मायावती उनके प्रचार के लिए मैनपुरी पहुंची थीं. दोनों ने एक दूसरे की जमकर तारीफ भी की. यूपी में सपा-बसपा गठबंधन के बाद पहली बार था जब मुलायम और मायावती एक साथ एक मंच पर मौजूद थे. जाहिर है सपा-बसपा समर्थकों के लिए ये एक अच्छा संयोग था लेकिन बीजेपी के लिए ये तस्वीर चिंतित करने वाली साबित हो सकती है.

यूपी में सपा-बसपा के गठबंधन के बाद तमाम राजनीतिक पंडित कसाय लगा रहे हैं कि महागठबंधन के आने से बीजेपी को कितना नफा नुकसान होगा. जातीय समीकरण के लिहाज से देखें महागठबंधन से बीजेपी को नुकसान होता दिख रहा है लेकिन अगर बीजेपी किसी तरह यूपी में 40 सीटें लाने में कामयाब हो जाती है तो उसके लिए ये उसके लिए जीत से कम नहीं होगी.

जाहिर है सपा-बसपा के साथ आने से सपा-बसपा का वोट बैंक बीजेपी के खिलाफ होगा लेकिन मायावती को लेकर यादवों की नाराजगी महागठबंधन को नुकसान पहुंचा सकती है. इसके अलावा कांग्रेस के महागठबंधन से अलग होने के बाद मुसलमान दुविधा की स्थिति में है कि किसे वोट करे. ओबीसी वोट की बात करें तो ओबीसी वोटबैंक बीजेपी की तरफ खिसकता हुआ नजर आ रहा है वहीं अपर कास्ट तो बीजेपी का परमपरागत वोटबैंक माना ही जाता है.

कुछ लोग ये भी कह रहे हैं कि महागठबंधन में कांग्रेस भी शामिल होती तो शायद बीजेपी को यूपी में समेटना और आसान हो जाता. जिस तरह कांग्रेस ने मुलायम परिवार के लिए सीट छोड़ी और मुलायम परिवार ने गांधी परिवार के लिए सीट छोड़ी उससे एक बात तो साफ है चुनाव के बाद सरकार बनाने के संभावना बनती है तो बीएसपी-एसपी और कांग्रेस साथ आने में एक मिनट भी नहीं लगाएगी.

Akhilesh Yadav in SP BSP Mahaparivartan Rally: सपा बसपा की मैनपुरी महापरिवर्तन रैली में गरजे अखिलेश यादव, बोले- भाजपा वालों को नया भारत बनाना है, गठबंधन को नया प्रधानमंत्री

RLD Chief Ajit Singh Escape Maha Parivartan Rally: मैनपुरी में मायावती, मुलायम सिंह, अखिलेश यादव की महापरिवर्तन रैली में नहीं दिखे आरएलडी सुप्रीमो अजीत सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App