पटनाः जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार अगले साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में बिहार से बेगूसराय से महागठबंधन के उम्मीदवार के तौर पर चुनावी मैदान में उतरेंगे. एनडीए को मात देने के लिए इस महागठबंधन में आरजेडी, कांग्रेस, एनसीपी, जीतन राम मांझी की हम (एस), शरद पवार की एलजेपी के अलावा लेफ्ट की पार्टियां शामिल हैं. बता दें कि साल 2016 में जेएनयू घटनाक्रम के बाद से कन्हैया कुमार चर्चा में आए थे. 

सूत्रों के अनुसार बिहार में महागठबंधन को लीड करने वाले आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव कन्हैया कुमार को बेगूसराय से टिकट देने को राजी हो गए हैं. ऐसा माना जा रहा है कि कन्हैया कुमार सीपीआई के आधिकारिक कैंडिडेट के तौर पर चुनाव लड़ेंगे. आरजेडी के एक सीनियर लीडर का कहना है कि खुद लालू प्रसाद यादव भी कन्हैया कुमार को बेगूसराय से चुनावी मैदान में उतारने को लेकर उत्साहित हैं ऐसा माना जा रहा है कि आरजेडी इस सीट पर अपनी पार्टी की उम्मीदवार नहीं उतारेगी. 

आपको बता दें फिलहाल बीजेपी के भोला सिंह बेगूसराय से सांसद हैं. पिछली बार साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में उन्होंने आरजेडी के तनवीर हसन को 58,000 वोटों से हराया था. कन्हैया कुमार मूल रूप से बेगूसराय जिले के बरौनी ब्लॉक में बिहाट पंचायत के रहने वाले हैं. कन्हैया की मां मीना देवी आंगनबाड़ी सेविका हैं तो वहीं उनके पिता जयशंकर सिंह एक किसान हैं

यह भी पढ़ें- Lok Sabha Elections 2019: यूपी की इन 24 लोकसभा सीटों पर है कांग्रेस की नजर

2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस और राहुल गांधी की चुनावी रणनीति में इमोशनल टच देंगे हार्वर्ड के प्रोफेसर स्टीव जार्डिंग!