नई दिल्ली. दिग्गज अभिनेता और पूर्व भाजपा नेता धर्मेंद्र ने कहा कि वो अपने बेटे सनी देओल को गुरुदासपुर से लोकसभा चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं देते यदि उन्हें पता होता कि सनी देओल कांग्रेस सांसद सुनील जाखड़ के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. धर्मेंद्र ने इस बारे में मीडिया से बात करते हुए कहा बलराम जाखड़ मेरे भाई की तरह थे. मुझे पता होता उनके बेटे सुनील जाखड़ गुरदासपुर से चुनाव लड़ रहे हैं तो मैं सनी को उनके खिलाफ चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं देता.

उन्होंने बताया कि सनी फिल्म उद्योग से हैं वो सुनील जाखड़ जैसे अनुभवी राजनेता के साथ बहस नहीं कर सकते. धर्मेंद्र ने कहा, वो (सुनील) भी मेरे बेटे की तरह हैं. उनके पिता बलराम जाखड़ के साथ मेरा बहुत मजबूत और अच्छा रिश्ता था. सनी उनके साथ बहस नहीं कर सकते क्योंकि वो (सुनील) एक अनुभवी राजनीतिज्ञ हैं और यहां तक ​​कि उनके पिता भी बहुत अनुभवी राजनीतिज्ञ थे लेकिन हम फिल्म उद्योग से आते हैं. इसके अलावा, हम यहां बहस करने के लिए नहीं बल्कि लोगों की दुर्दशा सुनने के लिए आए हैं क्योंकि हम इस भूमि से प्यार करते हैं.

83 वर्षीय धर्मेंद्र ने खुलासा किया कि वह उस समय बेहद भावुक हो गए जब उन्होंने सनी के गुरदासपुर सीट के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद आयोजित उनके पहले रोड शो के दौरान अपने बेटे का समर्थन करते हुए लोगों को देखा. उन्होंने कहा, मैं मुंबई से रोड शो देख रहा था और वहा लोगों की बड़ी भीड़ थी. मैं भावुक हो गया. मुझे पता है कि लोग हमें प्यार करते हैं, लेकिन मैं इतना प्यार देखकर हैरान था.

सुनील जाखड़ गुरदासपुर से सांसद हैं. उन्होंने अभिनेता से नेता बने विनोद खन्ना की मृत्यु के बाद 2017 के उपचुनावों में सीट जीती. ये निर्वाचन क्षेत्र भाजपा का गढ़ है और इसे पहली बार 1998 में विनोज खन्ना ने जीता था. गुरदासपुर में 19 मई को सातवें और अंतिम चरण के चुनाव में मतदान होगा. सभी सात चरणों के लिए परिणाम 23 मई को घोषित किए जाएंगे.

Ravi Kishan Announces PM Narendra Modi Biopic In Bhojpuri: रवि किशन भोजपुरी में बनाएंगे पीएम नरेंद्र मोदी, स्वामी विवेकानंद और अटल बिहारी वाजपेयी की बायोपिक

Mayawati Attacks on Pm Narendra Modi: बसपा सुप्रीमो मायावती का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला, बोलीं- महिलाओं का सम्मान नहीं करते

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App