नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव 2019 में हार के बाद कांग्रेस की सारी उम्मीदें टूट गई हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी अमेठी सीट भी नहीं बचा पाए और बीजेपी नेता एवं केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी के हाथों हार गए. हालांकि कांग्रेस की सीटों में मामूली बढ़त देखने को मिली. इस बीच शनिवार को नई दिल्ली स्थित पार्टी ऑफिस में कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक शुरू हो गई है. सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई और नेताओं ने इस्तीफे की पेशकश की हैं. हालांकि, कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों ने राहुल गांधी की इस्तीफे की पेशकश को ठुकरा दिया है. बाद में कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने राहुल गांधी के इस्तीफे की पेशकश की खबरों का खंडन करते हुए कहा कि राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश नहीं की है. कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी के हाथों बुरी तरह पराजय को लेकर हार पर समीक्षा होने वाली है. सीडब्ल्यूसी में यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, अशोक गहलोत समेत अन्य सीनियर नेता मौजूद हैं.

वहीं इसी बीच महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रमुख नेता संजय निरूपम ने कहा पार्टी की हार को लेकर गांधी के इस्तीफे के पेशकश की कोई जरूरत नहीं है. राहुल गांधी ने बड़ी मेहनत की है. लोकसभा चुनाव 2019 में पार्टी की हार हमारा दुर्भाग्य है. बता दें कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 300 से उपर सीट लाकर केंद्र में फिर से सरकार बनाने का दावा कर दिया है, वहीं कांग्रेस को इस बार में चुनाव में 52 सीट आई हैं.

इतना ही नहीं राहुल गांधी भी अपनी पुस्तैनी सीट अमेठी से हार गए हैं जो कि कांग्रेस के लिए बड़ा झटका है. एनडीए ने इस बार के चुनाव में 350 से भी उपर सीटें जीती हैं, इस बार कांग्रेस के बड़े-बड़े नेताओं को हार का मुहं देखना पड़ा है. कई प्रदेशों में तो कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला है.

दिल्ली में हो रही कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में कांग्रेस नेता, आरपीएन सिंह, पीएल पुनिया, मोतीलाल वोरा भी पहुंच चुके हैं. इसके साथ ही गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी आ गए हैं.

यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी सहित कांग्रेस के सीनियर नेता पी चिदंबरम और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस नेता सिद्धारमैया भी पहुंचे हैं. इसके साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और ईस्ट यूपी की महसचिव प्रियंका गांधी भी पहुंच चुकी हैं.

Rahul Gandhi Congress Lok Sabha Defeat Seats Tally Goes UP: राहुल गांधी अमेठी हारे पर सोनिया गांधी के समय मिली 44 सीटों से कांग्रेस को 50 सीट पर लाए

Lok Sabha Election Results 2019: लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी एनडीए की जीत पर पीएम नरेंद्र मोदी को पाक पीएम इमरान खान और चीन, जापान, रूस, इस्रायल समेत कई देशों के नेताओं ने दी बधाई