लखनऊ. कल यानि शनिवार दोपहर 12 बजे बसपा अध्यक्ष मायवती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में साथ में एक साझा प्रेस कांफ्रेंस करने वाले हैं. माना जा रहा है कि इस साझा प्रेस कांफ्रेंस में दोनों नेता लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अपनी पार्टियों के गठबंधन का ऐलान कर देंगे. अखिलेश यादव की सपा और मायावती की बसपा कई हफ्तों से गठबंधन पर चर्चा कर रही है. पिछले हफ्ते दिल्ली में भी दोनों ने मुलाकात की. अब कहा जा रहा है कि इस प्रेस कांफ्रेंस में गठबंधन के ऐलान के साथ-साथ सीट बंटवारें का भी ऐलान किया जाएगा.

ये प्रेस कांफ्रेंस लखनऊ के होटल ताज में की जाएगी. इस कांफ्रेंस में कांग्रेस को शामिल नहीं किया गया है. कांग्रेस के इस गठबंधन से कांग्रेस को बाहर रखे जाने की खबरें बहुत समय से आ रही है. अब प्रेस कांफ्रेंस से कांग्रेस को बाहर रखे जाने के कारण इस बात पर मुहर लगती नजर आ रही है कि कांग्रेस इस गठबंधन का हिस्सा नहीं बनेगी. बता रहे हैं कि इस प्रेस कांफ्रेंस के लिए सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी और बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने मीडिया को आमंत्रण भेजा है. पहले कहा जा रहा था कि 15 जनवरी को मायावती और अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव के जन्मदिन के मौके पर ये ऐलान किया जाएगा.

लेकिन प्रेस कांफ्रेंस की खबर आते ही कहा जा रहा है कि शायद कल ही ऐलान किया जा सकता है. उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीटें हैं. सूत्रों की मानें तो बसपा और सपा दोनों ही 37-37 सीटों पर लड़ेंगी. वहीं आरएलडी भी इस गठबंधन में शामिल की जाएगी. इसके अलावा भले ही कांग्रेस इस गठबंधन का हिस्सा ना बनें लेकिन कांग्रेस की परंपरागत सीट अमेठी और रायबरेली पर गठबंधन से कोई उम्मीदवार नहीं उतारा जाएगा.

CAG Report Madhya Pradesh: कैग रिपोर्ट में खुली पोल, शिवराज सिंह सरकार में मध्य प्रदेश को लगी 8017 करोड़ की चपत

BJP Vice President for Party: शिवराज सिंह चौहान, रमन सिंह और वसुंधरा राजे सिंधिया को भाजपा ने नियुक्त किया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, विधानसभा चुनाव में तीनों ने खोई थी सत्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App