नई दिल्ली. भगवान विष्णु के दिन आपको विष्णु जी और उनके अवतार कृष्ण जी की पूजा के बारे में जरुरी जानकारी दिए देती हूं. आपको ये सब पहले शायद नहीं मालूम लेकिन आज के बाद आपकी जिंदगी में बदलाव शुरू होगा. भगवान विष्णु और बाल गोपाल को बिना स्नान और भोग लगाएं खुद भोजन नहीं करना चाहिए. बिना स्नान और भोग लगाए भोजन करने से बरकत नहीं रहती है और परिवार  में तरह-तरह की परेशानियां आती हैं

नियमित एक तुलसी का पत्ता भगवान के सिर पर और प्रसाद पर डालकर अर्पित करें. बिना तुलसी के पूजा अधूरी रह जाती है. भगवान यह पूजा स्वीकार नहीं करते हैं. सिले हुए और जूठ वस्त्र धारण करके भगवान की पूजा नहीं करनी चाहिए.पुराने फूल भगवान की मूर्ति पर नहीं चढ़ाना चाहिए.  दूसरी बात यह याद रखें कि बासी फूल भगवान के पास नहीं रहने दें. फूल माला भी हर दिन बदल देना चाहिए.

किस दिशा में तस्वीर लगाना शुभ-

वास्तुशास्‍त्र के अनुसार घर-परिवार के सदस्‍यों की तस्वीर उत्तर दिशा, पूर्व दिशा और उत्तर-पूर्व दिशा में लगानी चाहिए. ऐसा करने से परिवार के सदस्‍यों के बीच प्‍यार बना रहता है और घर में खुशियां आती हैं. इसके अलावा किसी और दिशा में घर के सदस्‍यों की तस्‍वीरों को लगाना अशुभ समझा जाता है. घर की दक्षिण, पश्चिम और दक्षिण-पश्चिम दिशा में मरे हुए रिश्तेदारों की तस्वीर लगाना सही माना जाता है.

रसोई घर में माँ अन्नपूर्णा की तस्‍वीर का होना शुभ माना जाता है लेकिन यदि रसोईघर आग्नेय कोण में नहीं है तो ऋषि मुनियों की तस्वीर लगाएं. ये तो सभी जानते हैं कि घर में युद्ध प्रसंग, रामायण या महाभारत के युद्ध के चित्र, क्रोध, वैराग्य, डरावना, वीभत्स, स्त्री, रोता बच्चा, अकाल, सूखे पेड़ कोई भी चित्र नहीं लगाना चाहिए.

वैवाहिक जीवन को सुखमय बनाने के लिए घर में राधा कृष्ण की तस्वीर लगाएं. धन लाभ की कामना करते हैं तो उत्‍तर दिशा में लक्ष्मी व कुबेर की तस्वीर लगाएं. कैरियर में सफलता प्राप्ति के लिए उत्तर दिशा में जंपिंग फिश, डॉल्फिन या मछालियों के जोड़े का प्रतीक चिन्ह लगाए जाने चाहिए.

फैमिली गुरु: श्री कृष्ण की मूर्ति स्थापित करने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

फैमिली गुरु: गणपति जी से जुड़े महाउपाय दूर करेंगे घर का वास्तुदोष

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App