नई दिल्ली. दही कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है. दही खाने से दांत भी मजबूत होते हैं. दही ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारी से लड़ने में भी मददगार होती है.

दही पेट के लिए बहुत फायदेमंद होता है. पेट की बीमारी से परेशान लोगों को अपने आहार में दही को शामिल करना चाहिए. पेट में जब अच्छे किस्म के बैक्टीरिया की कमी हो जाती है, जिसके चलते भूख न लगने जैसी तमाम बीमारियां पैदा हो जाती हैं. इस स्थिति में दही सबसे अच्छा भोजन बन जाता है. इसमें अच्छे बैक्टीरिया पाये जाते हैं जो पेट की बीमारी को ठीक करते हैं. यह इनको हजम करने में मदद करता है। दही में अजवाइन मिलाकर पीने से कब्ज की शिकायत समाप्त होती है.
स्किन के लिए अच्छा

चेहरे पर दही लगाने से स्किन मुलायम होती है और निखार आता है. दही से चेहरे की मसाज की जाये तो ये ब्लीच के जैसा काम करता है. गर्मियों में स्किन पर सनबर्न की समस्या को दूर करने के लिए दही मलना चाहिए, इससे सनबर्न और टैन में फायदा मिलता है. इसके अलावा त्वचा का रूखापन दूर करने के लिए दही का प्रयोग करना चाहिए। जैतून के तेल और नींबू के रस के साथ दही का चेहरे पर लगाने से चेहरे का रूखापन समाप्त होता है.
-लू से बचने के लिए दही का प्रयोग किया जाता है. लू लगने पर दही पीना चाहिए
-दही पीने से पाचन क्षमता बढती है और भूख भी अच्छे से लगती है.
-सर्दी और खांसी के कारण सांस की नली में इन्फेक्शन हो जाता है. इस इंफेक्शन से बचने के लिए दही का प्रयोग करना चाहिए.
-मुंह के छालों के लिए यह बहुत ही अच्छा घरेलू नुस्खा है. मुंह में छाले होने पर दही से कुल्ला करने पर छाले समाप्त हो जाते हैं.
-दही के सेवन से हार्ट में होने वाले कोरोनरी आर्टरी रोग से बचाव किया जा सकता है.
-दही के नियमित सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रोल को कम किया जा सकता है.
लेकिन एक बार डॉक्टर से कंसल्ट जरुर कर लीजिएगा. कोई दिक्कत होगी तो दूर हो जाएगी.

फैमिली गुरु: जन्माष्टमी पर जानें किस रंग के थे श्रीकृष्ण?, राशि के अनुसार जातक लड्डू गोपाल को चढ़ाएं ये चीजें

फैमिली गुरु: जानिए जन्माष्टमी पर किस मंत्र के जाप से मिलेंगी सफलता

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App