नई दिल्ली. अगर पति से नहीं बन रही. अगर शादीशुदा जिंदगी बर्बाद हो रही है तो घर में पत्नी अपने हाथों में कम से कम 2 सोने की या पीली चूड़ी पहने तो शादीशुदा जिंदगी रास्ते पर आने लगेगी. कम से कम पत्नी अगर हाथ में पीली चूड़ी पहन के रखे तो भी पति के साथ प्यार कम नहीं होगा. अगर घर से बीमारी दूर नहीं हो रही तो सरसों के तेल को गरम कर इसमें नींबू, फिटकरी, कील और काली कांच की चूड़ी डाल कर मिट्टी के बर्तन में रख कर, रोगी के पास रख दें. फिर इस बर्तन को दूर कहीं गाड़ आएं. बीमारी दूर होगी. लेकिन डॉक्टर क सलाह लेती रहनी है. इसे साथ में कीजिए. इलाज सबसे ज्यादा जरुरी है.

अगर घर में कोई महिला गर्भवति है तो उसके दाहिने हाथ पर तांबे का कंगन पहना दीजिए. इससे बच्चा सेहतमंद जन्म लेता है. हरे रंग की चूड़ियां बहुत खास होती हैं. नवविवाहित स्त्रियों को हरे रंग की कांच की चूड़ियां पहनने के लिए कहा जाता है. यह हरा रंग एक पेड़ की हरी पत्तियों की तरह ही अपनी छांव से खुशहाली प्रदान करता है. साथ ही यह रंग उस महिला को ‘देवी’ के रूप’ से भी जोड़ता है. अब आपके फेवरेट लाल रंग की बात कर लेते हैं.

हरे रंग के अलावा लांल रंग की कांच की चूड़िया पहनने का भी विधान भारत में शामिल है. यह रंग उस स्त्री को आदि शक्ति से जोड़ता है. चूड़ियों के लाल रंग में भी कई प्रकार के रंग होते हैं जैसे कि गहरा लाल, हल्का लाल, रक्त के समान लाल, आदि. इन सभी रंगों का अपना महत्व है. अब आप सोच रही होंगी रंग तो ठीक है. लेकिन कितनी चूड़ियां पहननी चाहिए तो इसका जवाब भी मौजूद है. अगर तीन या इससे कम चूड़ियां पहनी जाएं तो यह उस स्त्री में शक्ति लाती हैं.

फैमिली गुरु: बुरी नजर से बचाने के अलावा सफलता भी दिलाता है काला धागा

फैमिली गुरु: घर खरीदने का सपना होगा इस उपाय से पूरा, पति-पत्नी के झगड़े भी करेगा दूर

फैमिली गुरु: घर खरीदने का सपना होगा इस उपाय से पूरा, पति-पत्नी के झगड़े भी करेगा दूर