नई दिल्ली. सुहागिन महिलाओं के लिए मंगलसूत्र का बड़ा महत्व होता है. किसी पत्नी के लिए मंगलसूत्र बड़े काम की चीज होती है. शादी के समय विधि के रूप में पहनाया जाने वाला मंगलसूत्र किसी भी सुहागिन का बहुत ख्याल रखता है. मंगलसूत्र में पिरोए गये काले मोती से काल यानी अशुभ शक्तियां दूर रहती है. मंगलसूत्र बुरी नज़र से रक्षा करता है इस मान्यता के वजह समय दुल्हन को मंगलसूत्र पहनाया जाता है. मंगल सूत्र के विषय में ये भी मान्यता है कि इससे पति पर आने वाले दुख दूर होते है. फैमिली गुरु जय मदान आज शो में मंगलसूत्र के बारे में ही बात कर रही हैं.

पति के लिए प्यार की निशानी के लिए प्यार की निशानी माना जाने वाले मंगलसूत्र में सोने का पेंडेंट लगा होता है. शास्त्रों में कहा गया है कि सोना धारण करने से शरीर शुद्ध होता है. नहाते समय सोने का स्पर्श करके जो पानी शरीर पर गिरता है उससे पापों से मुक्ति मिलती है. मंगलसूत्र में मोर का चिन्ह बना होता है जो पति के प्रति प्रेम का प्रतीक माना जाता है. पेंडेंट पर कुछ अन्य चिह्न भी बने होते हैं जो बुरी नज़रों से बचाने वाले माने जाते हैं.

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सोना गुरू के प्रभाव में होता है. गुरू ग्रह को वैवाहिक जीवन में खुशहाली, संपत्ति एवं ज्ञान का कारक माना जाता है. यह धर्म का कारक भी है. काला रंग शनि का प्रतीक माना जाता है. शनि स्थायित्व और निष्ठा का कारक ग्रह होता है. गुरू और शनि के बीच संबंध होने की वजह से मंगलसूत्र वैवाहिक जीवन में सुख लाने वाला माना जाता है.

फैमिली गुरु: नवरात्रि में शक्ति साधना के लिए है खास योग, जानिए चमत्कारी और अचूक उपाय

Somwar Ke Upay: सोमवार के असरदार उपायों से मिलेगी अपार सफलता, घर से खाकर निकलें ये चीज

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App