नई दिल्ली. Family Guru Jai Madaan: इंडिया न्यूज के खास शो फैमिली गुरु में जय मदान ने पांच महाउपाय के बारे में बताया है. ये पांच उपाय आपके जीवन की सभी परेशानी को खत्म कर देंगे. अगर आपके बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगता है बार बार फेल हो जाते हैं. जय मदान द्वारा बताए गए उपाय गए. महाउपाय -1- क्या बच्चों का पढ़ाई में मन न लगता. बार-बार फेल हो जाता है. शुक्ल पक्ष के पहले बृहस्पतिवार को सूर्यास्त से ठीक आधा घंटा पहले बड़ के पत्ते पर पांच अलग-अलग प्रकार की मिठाईयां तथा दो छोटी इलायची पीपल के वृक्ष के नीचे श्रद्धा भाव से रखें और बच्चे की पढ़ाई के लिए कामना करें. पीछे मुड़कर न देखें, सीधे अपने घर आ जाएं। इसे लगातार 3 गुरुवार तक करें.

महाउपाय -2- क्या बहुत मेहनत के बाद भी कारोबार ठप है. किसी गुरू पुष्य योग और शुभ चन्द्रमा के दिन सुबह हरे रंग के कपड़े की छोटी थैली तैयार करें। श्री गणेश के चित्र या मूर्ति के आगे “संकटनाशन गणेश स्तोत्री के 11 पाठ करें। ऐसा करने से गणपति की कृपा होगी और आपका बिजनेस चल निकलेगा.

महाउपाय -3- अगर कुछ काम रुके हुए हैं पूरे नहीं हो रहे. गणेश चतुर्थी को गणेश जी का ऐसा चित्र घर या दुकान पर लगाएं, जिसमें उनकी सूंड दायीं ओर मुड़ी हुई हो. इसकी आराधना करें. इसके आगे लौंग और सुपारी रखें. जब भी कहीं काम पर जाना हो, तो एक लौंग तथा सुपारी को साथ ले कर जाएं, तो काम सिद्ध होगा. लौंग और सुपारी को वापस ला कर गणेश जी के आगे रख दें और जाते हुए कहें `जय गणेश काटो कलेश

महाउपाय -4- क्या किसी सरकारी काम में सफलता नहीं मिल रही. विष्णु यज्ञ की विभूति ले कर, अपने पितरों की `कुश की मूर्ति बना कर, गंगाजल से स्नान करायें तथा यज्ञ विभूति लगा कर, कुछ भोग लगा दें और विष्णु जी से काम की सफलता के लिए प्रार्थना करें. किसी धार्मिक ग्रंथ का एक अध्याय पढ़ कर, उस कुशा की मूर्ति को पवित्र नदी या सरोवर में प्रवाहित कर दें. सफलता अवश्य मिलेगी. लेकिन आपका तरीका गलत नहीं होना चाहिए.

महाउपाय -5- क्या समृद्धि और साख नहीं मिल रही. रात में चावल, दही और सत्तू का सेवन करने से लक्ष्मी का निरादर होता है. साख समृद्धि चाहने वालों को इनका सेवन रात में नहीं करना चाहिए

Family Guru Jai Madaan: गीता का ग्रंथ बदल देगा आपका भाग्य

Family Guru Kharmas 2018: मकर संक्रांति तक आपको हर अशुभ काम से बचाने वाले उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App