नई दिल्ली. इंडिया न्यूज के खास शो फैमिली गुरु में जय मदान ने पांच उपाय के बारे में बताया है. ये पांच जीवन की सभी परेशानी को हमेशा हमेशा के लिए दूर कर देंगे. पहला महाउपाय- क्या अनहोनी से डर रहे हैं. सबसे पहले आप हनुमान चालीसा नियम से पढ़ना शुरू कर दें. रोज शाम को हनुमान चालीसा पढ़ना चाहिए. शाम को घर में या मंदिर में सुबह-शाम पढ़ना चाहिए. हनुमान चालीसा पढ़ने के बाद हनुमानजी की कपूर से आरती करें.

दूसरा महाउपाय- क्या आपको खुद को खतरे से सुरक्षित रखना है. पानीदार एक नारियल लें और उसे अपने ऊपर से 21 बार वारें. वारने के बाद उसे किसी देवस्थान पर जाकर अग्नि में जला दें. ऐसा परिवार के जिस सदस्य पर संकट हो उसके ऊपर से वारें. किसी मंगलवार या शनिवार को करना चाहिए. 5 शनिवार ऐसा करने से जीवन में अचानक आए कष्ट से छुटकारा मिलेगा.

तीसरा महाउपाय – क्या आपको कोई ना कोई संकट घेर लेता है. मछलियों को खिलाएं. कागजों पर छोटे अक्षरों में राम-राम लिखें. अधिक से अधिक संख्या में ये नाम लिखकर सबको अलग-अलग काट लें. अब आटे की छोटी-छोटी गोलियां बनाकर एक-एक कागज उनमें लपेट लें और नदी या तालाब पर जाकर मछलियों और कछुओं को ये गोलियां खिलाएं. कछुओं और मछलियों को रोज आटे की गोलियां खिलाएं और चीटियों को भुने हुए आटे में बूरा मिलाकर बनाई पंजीरी खिलाएं.

चौथा महाउपाय- क्या खुद को अनजान संकट से बचाना चाहता हैं. जल अर्पण कीजिए. एक तांबे के लोटे में जल लें और उसमें थोड़ा-सा लाल चंदन मिला दें. उस बर्तन को अपने सिरहाने रखकर रात को सो जाएं. सुबह उठकर सबसे पहले उस जल को तुलसी के पौधे में चढ़ा दें। ऐसा कुछ दिनों तक करें. धीरे-धीरे आपकी परेशानी दूर होती जाएगी.

पांचवा महाउपाय- क्या मुसीबत सामने खड़ी दिख रही है. शनिवार को एक कांसे की कटोरी में सरसों का तेल और सिक्का (रुपया-पैसा) डालकर उसमें अपनी परछाई देखें और तेल मांगने वाले को दे दें या किसी शनि मंदिर में शनिवार के दिन कटोरी सहित तेल रखकर आ जाएं. ये उपाय आप कम से कम पांच शनिवार करेंगे तो आपकी शनि की पीड़ा शांत हो जाएगी और शनिदेव की कृपा शुरू हो जाएगी.

Family Guru Jai Madaan: घर में कौन सा फर्नीचर कहां रखने से सौभाग्य आएगा

Family Guru Jai Madaan: इन उपाय को करने से प्रसन्न होगी मां लक्ष्मी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App