नई दिल्ली. Family Guru Jai Madaan: इंडिया न्यूज के खास शो फैमिली गुरु में जय मदान ने गुड और नारियल के अचूक उपाय के बारे में बताया है. नारियल को श्रीफल के नाम से भी जाना जाता है. ऐसी मान्यता है की जब भगवान विष्णु ने पृथ्वी पर अवतार लिया तो वे अपने साथ तीन चीजें- लक्ष्मी, नारियल का वृक्ष और कामधेनु लाए इसलिए नारियल के वृक्ष को श्रीफल भी कहा जाता है. श्री का अर्थ है लक्ष्मी या नारियल लक्ष्मी औक विष्णु का फल. नारियल में त्रिदेव अर्थात ब्रह्मा, विष्णु और महेश का वास माना गया है. श्रीफल भगवान शिव का प्रिय फल है. मान्यता के मुताबिक नारियल में बनी तीन आंखों को त्रिनेत्र के रूप में देखा जाता है. श्रीफल खाने से सेहत अच्छी रहती है. इष्ट को नारियल चढ़ाने से पैसे से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाती हैं.

पूजा में नारियल या श्रीफल की खास जगह है. कोई भी वैदिक या दैविक पूजा श्रीफल के बिना अधूरी मानी जाती है लेकिन महिलाएं नारियल नहीं फोड़तीं. श्रीफल बीज रूप है, इसलिए प्रजनन का कारक माना जाता है श्रीफल को प्रजनन क्षमता से जोड़ा गया है स्त्रियों बीज रूप से ही शिशु को जन्म देती हैं और इसलिए नारी के लिए बीज वाले नारियल को फोड़ना अशुभ माना गया है. देवी-देवताओं को श्रीफल चढ़ाने के बाद पुरुष ही इसे फोड़ते हैं. शनि की शांति के लिए नारियल के जल से शिवलिंग पर रुद्रभिषेक करने का विधान भी है.

श्रीफल शुभ, समृद्धि, सम्मान, सफलता और सौभाग्य का कारक माना जाता है. किसी को सम्मान देने के लिए उनी शॉल के साथ श्रीफल भी भेंट किया जाता है.श्रीफल कैलोरी से भरपूर होता है. इसकी तासीर ठंडी होती है। इसमें कई पोषक तत्व होते हैं. इसके कोमल तनों से जो रस निकलता है उसे नीरा कहते हैं उसे भी बहुत अच्छा माना गया है

Family Guru Jai Madaan: ये पांच महाउपाय हर संकट को दूर करेगा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर