नई दिल्ली. अगर आपको पेट, रीढ़ और कंधों की मांसपेशियों को मजबूत बनाना है तो आपके लिए भुजंगासन एक अच्छा विकल्प है. इसमें शरीर की आकृति फन उठाए हुए भुजंग अर्थात सर्प जैसी बनती है.

इसे करने रीढ़ की हड्डी सशक्त होती है और पीठ में लचीलापन आता है. यह आसन फेफड़ों की शुद्धि के लिए भी बहुत अच्छा है और जिन लोगों का गला खराब रहने की, दमे की, पुरानी खांसी और फेंफड़े संबंधी कोई बीमारी हो तो उनको यह आसन करना चाहिए. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App