Friday, February 3, 2023
spot_img

फिल्म बॉयकॉट करने वालों के खिलाफ स्वरा के पास है सबूत, ये है मकसद

मुंबई: सोशल मीडिया पर बॉलीवुड बॉयकॉट को लेकर कई सेलेब्स अपनी राय देते रहते हैं। अब स्वरा भास्कर भी इस मुद्दे पर अपनी राय दी हैं। स्वरा को लगता है कि फिल्में न चलने की वजह बॉयकॉट ट्रेंड नहीं है। उन्होंने आलिया भट्ट का उदाहरण देकर इस बात का जिक्र किया। दरअसल स्वर ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद आलिया को इतना ट्रोल किया गया। फिर भी उनकी फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी देखी गई। स्वरा ने यह भी कहा कि कुछ नफरत फैलाने वाले लोग ये बॉयकॉट ट्रेंड फैला रहे हैं। शायद ये उनकी कमाई का जरिया है।

नहीं चली ये फ़िल्में

कोरोना के बाद से बॉक्स ऑफिस पर गिनी-चुनी फिल्में ही कमाई कर पाई है। लोग इसके पीछे अलग-अलग वजहों को जिम्मेदार बता रहे हैं। कई लोगों का मानना है कि दर्शकों की नजर में बॉलीवुड स्टार्स की छवि खराब हो चुकी है। इसका असर भी फिल्मों के कलेक्शन पर पड़ रहा है। बीते दो साल से सोशल मीडिया पर बॉलीवुड और कई एक्टर्स के लिए आए दिन बॉयकॉट ट्रेंड करने लगता है। वहीं अब स्वरा ने आलिया का समर्थन किया और बॉयकॉट ट्रेंड करने वालो को करारा जवाब दिया।

आलिया का दिया साथ

स्वरा भास्कर ने एक इंटरव्यू में कहा, मुझे नहीं पता कि बॉयकॉट ट्रेंड वास्तव में फिल्म की कमाई को कितना प्रभावित करता है। सुशांत सिंह राजपूत के दुखद निधन के बाद आलिया भट्ट को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया गया। जो कि गलत भी था। उस वक्त सड़क 2 रिलीज हुई थी। इसका बॉयकॉट हुआ और नेगेटिव पब्लिसिटी भी हुई। जिसके बाद फिल्म पिट गई।

फिल्म बॉयकॉट करने का एजेंडा

स्वरा बोलती हैं, जब गंगूबाई काठियावाड़ी आई तो यही सब शुरू हुआ था। नेपोटिजम, सुशांत, वही बॉयकॉट के नारे लेकिन लोग गए और उन्होंने फिल्म देखी भी। बॉयकॉट को ज्यादा हाइप दे दी गई है। ये छोटे से लोगों का ग्रुप है जिनका एक खास अजेंडा है। वे नफरत फैलाने वाले लोग हैं, बॉलीवुड से नफरत करते हैं, वे बॉलीवुड को ख़त्म करना चाहते हैं। वे बॉलीवुड के बारे में बकवास और झूठी बातें करते हैं। मुझे लगता है कि उनकी इससे कमाई हो रही है। हमारे पास कई सबूत हैं कि ये लोग पैसों के लिए ऐसा करते हैं। कई लोगों ने सुशांत की घटना को अपने फायदे के लिए यूज़ किया है।

 

बिहार में अपना CM चाहती है भाजपा, नीतीश कैसे करेंगे सियासी भूचाल का सामना

Latest news