नई दिल्ली: पिछले दिनों सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े फॉरेंसिंक एविडेंस जांचने मुंबई गई ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस एम्स दिल्ली की फॉरेंसिंक जांच टीम के हेड डॉक्टर सुधीन गुप्ता ने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत की पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में बहुत सारी चीजें अधूरी हैं, उन्होंने ये भी कहा कि इस मामले की हत्या के एंगल से जांच की जानी चाहिए. सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद उनके शव का पोस्टमार्टम मुंबई के कूपर अस्पताल में हुआ था. बताया जा रहा है कि जिन डॉक्टरों ने सुशांत सिंह राजपूत का पोस्टमार्टम किया वो सभी डॉक्टर एक साथ छुट्टी पर चले गए जिसे लेकर शक और भी गहरा हो जाता है.

डॉ सुधीर गुप्ता ने कहा है कि हमें मेडिकल डेथ इंवेस्टिगेशन के लिए जरूरी जानकारी चाहिए थी, जो हमने मुंबई की लोकल टीम के जरिए कूपर अस्पताल से मांगी है. दरअसल सीबीआई ने एम्स के फॉरेंसिक विभाग के डॉक्टरों से सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट और ऑटोप्सी रिपोर्ट की जांच करते हुए उस पर उनकी राय मांगी थी.

इससे पहले डॉ सुधीर गुप्ता ने पिछले हफ्ते कहा था कि हम हत्या होने के अलावा सभी संभावित एंगल्स से जांच करेंगे. उन्होंने ये भी कहा था कि हमारी टीम सुशांत के शरीर पर चोट के पैटर्न का विश्लेषण करेगी और परिस्थितिजन्य साक्ष्यों के साथ उन्हें मिलाएगी. साथ ही जो एंटी-डिप्रेसेंट सुशांत सिंह राजपूत को दिए गए थे, उनका विश्लेषण भी एम्स प्रयोगशाला में किया जाएगा. सुशांत की मौत से जुड़ी सारी जानकारी मिलने के बाद डॉक्टरों का कहना है कि इस मामले की हत्या के ऐंगल से भी जांच होनी चाहिए.

Sushant Singh Rajput Case: ड्रग डीलरों से रिया चक्रवर्ती की बातचीत वायरल होने के बाद नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट ने शुरू की छानबीन

Sushant Singh Rajput case: सुब्रमण्यम स्वामी का आरोप- सुशांत की ऑटोप्सी में जानबूझकर की गई देरी देरी, ताकि जहर पेट में घुल जाए और रिपोर्ट में न आए

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर