मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत की बीमारी के बारे में उनके डॉक्टर ने बड़ा खुलासा किया है. सुशांत सिंह रापजूत की बीमारी का इलाज कर रहीं डॉक्टर सुजैन वॉकर के मुताबिक सुशांत अपनी बीमारी के बारे में जानते थे और उन्हें लगता था कि वो कभी ठीक नहीं होंगे. सुशांत की डॉक्टर सुजैन वॉकर के मुताबिक सुशांत जैसी ही थोड़ा ठीक होते थे वो दवाईयां लेना बंद कर देते थे.

सुशांत की डॉक्टर सुजैन वॉकर के मुताबिक ‘हर इंसान के दिमाग से सेरोटोनिन नाम का कैमिकल रिलीज होता है. अगर ये कैमिकल कम रिलीज होगा तो इंसान दुखी महसूस करेगा और अगर ज्यादा रिलीज होगा तो इंसान खुश महसूस करेगा. यानी किसी इंसान का मूड किस वक्त कैसा होगा ये उस इंसान के दिमाग में बहने वाला ये कैमिकल तय करता है.’

डॉ वॉकर के मुताबिक इस बीमारी में जो दवाईयां दी जाती है वो दिमाग के भीतर इस केमिकल के बहाव को नियंत्रित करती है. डॉ वॉकर के मुताबिक इस बीमारी में इंसान बेहद उदास रहना शुरू कर देता है और उसे आत्महत्या जैसे विचार आने लगते हैं. डॉ. वॉकर के मुताबिक इसी बीमारी की वजह से सुशांत बार-बार रोने लगते थे.

डॉ वॉकर ने मुंबई पुलिस को दिए बयान में कहा है कि 8 जून को रिया ने उन्हें बताया कि सुशांत ने दवाइयां लेना बंद कर दिया है और उसकी तबीयत फिर से बिगड़ने लगी है और वह अपॉइंटमेंट कैंसिल कर रही हैं. डॉ वॉकर के मुताबिक रिया ने उन्हें ये भी बताया कि सुशांत की तबीयत काफी ज्यादा बिगड़ रही है और संभव है कि उसके परिवार वाले भी घर आएंगे.

बतौर डॉ. वॉकर ’14 जून 2020 को दोपहर 2.40 पर डॉक्टर प्रवीण ने उन्हें बताया कि सुशांत ने सुसाइड कर लिया है. डॉ. वॉकर ने आगे कहा कि ‘मेरे ख्याल से, सुशांत को बायपोलर डिसऑर्डर था और उसने इस बारे में बहुत कुछ पढ़ा था. मैंने उसे कई बार कहा था कि वह ठीक हो जाएगा लेकिन उसे लगता था कि ये सच नहीं है. इसीलिए उसे लगता था कि वह कभी भी इस दिक्कत से नहीं उभर सकेगा.’

Sushant Singh Rajput Case: दिशा सालियान की मौत तक पहुंची सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच, सीबीआई खंगालेगी दोनों मौत का कनेक्शन

Sushant Singh Rajput Case: सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी का दावा, सुशांत के पैसे और प्रॉपर्टी हड़पना चाहती थी बहनें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर