Sunday, January 29, 2023

SS Rajamouli ने देखी Brahmastra, डायरेक्शन से इंप्रेस होकर बोले- नहीं है फेयरी टेल

नई दिल्ली : अयान मुखर्जी का ड्रीम प्रोजेक्ट ‘ब्रह्मास्त्र’ इस साल की सबसे मचअवेटेड फिल्म है. रणबीर कपूर और आलिया भट्ट के फैंस को इस फिल्म का बेसब्री से इंतज़ार है. भारतीय संस्कृति को इस फिल्म में जबरदस्त VFX के साथ दिखाया जाएग। अब इस फिल्म पर ‘आरआरआर’ और ‘बाहुबली’ फेम डायरेक्टर एस एस राजामौली ने फ़िल्म को लेकर अपना रिव्यु दिया है.

क्या बोले राजामौली?

बुधवार को राजामौली ने रणबीर कपूर की फिल्म का रिव्यू किया जहां उन्होंने डायरेक्टर अयान मुखर्जी के निर्देशन की भरभरकर तारीफ की है. डायरेक्टर राजामौली ने बताया कि उन्हें फिल्म की सबसे अच्छी बात यह लगी कि यह ‘अस्त्रों’ की कहानी कहने का एक व्यावसायिक तरीका है. उन्होंने ये बात फिल्म ब्रह्मास्त्र की रिलीज से पहले चेन्नई में हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा. मशहूर निर्देशक आगे कहते हैं कि ‘ब्रह्मास्त्र’ न केवल सबसे बहुप्रतीक्षित फिल्मों में से एक है, इस साल की सबसे महंगी फिल्म भी होगी.

राजामौली अयान मुखर्जी पर बात करते हुए कहते हैं कि ‘अयान ने एक ऐसी दुनिया बनाने का सपना देखा था, जिसे हमने पहले कभी नहीं देखा है. ये है अस्त्रों की शानदार दुनिया, हमने अपने इतिहास, अपने पुराणों से जिसके बारे में जाना है. बचपन में हमने इन सभी अस्त्रों के बारे में सुना था, लेकिन इन अस्त्रों की भव्यता कभी नहीं देखी. फिल्म के बारे में बात करते हुए आगे राजामौली कहते हैं- ‘अयान ने यही सपना देखा है.ये लंबा सफर है जो साल साल 2014 से शुरू हुआ. इसमें करण जौहर, रणबीर, आलिया, नागार्जुन और अमित सर का भी सहयोग मिला है. डायरेक्टर राजामौली ने फिल्म पर बात करते हुए उन्हें भी इस शानदार यात्रा का हिस्सा बनाने के लिए सभी का आभार जताया.

अयान की तारीफ

आखिर राजामौली को ‘ब्रह्मास्त्र’ इतनी पसंद क्यों आई? इस सवाल पर उन्होंने कहा- अयान की इस दुनिया को बनाना आसान नहीं है. अयान ने एक ऐसी शक्ति बनाई है जिसकी कुछ सीमाएं हैं. एक बड़ा खलनायक बनाने की गुंजाइश की और बुराई पर जीत के लिए अच्छाई के संघर्ष की गुंजाइश भी बनाई है. यह परियों की कथा नहीं है बल्कि अस्त्रों की कहानी कहने का एक व्यावसायिक तरीका है. फिल्म में अयान ने ‘वानर अस्त्र’, ‘अग्नि अस्त्र’, ‘जलास्त्र’ और ‘ब्रह्मास्त्र’ सहित सभी अस्त्रों में प्रेम की मौजूदगी बताने का प्रयास किया है. इस तथ्य को केवल संवादों के जरिए नहीं,विचारों से भी सुनिश्चित किया गया है.

Delhi Excise Case: बीजेपी बोली- ‘अरविंद केजरीवाल का अहंकार टूटेगा, AAP के पास सवालों का नहीं है जवाब’

Latest news