बॉलीवुड डेस्क, मुंबई: सोनम कपूर ने एक शो के दौरान नेपोटिज्म पर खुलकर बातचीत की है.  इस दौरान उन्होंने कहा कि सभी ने नेपोटिज्म की गलत परिभाषा तय की हुई है. सभी सोचते हैं कि नेपोटिज्म का मतलब रिलेटिव ऑफ पर्सन हैं, लेकिन नेपोटिज्म का मतलब वास्तविक मतलब होता है कि किसी भी फिल्ड में संबंध होने के चलते जॉब पाना है. इसके साथ उन्होंने कहा कि लोग अपने अनुसार इस शब्द का इस्तेमाल करते हैं और अपने फायदे के अनुसार इसका फायदा उठाते हैं.

सोनम यही नहीं रुकी उन्होंने कहा मेरे पिता( अनिल कपूर) कोई शानदार परिवार से नहीं आते हैं उन्होंने बॉलीवुड में 40 साल इस इंडस्ट्री में कड़ी मेहनत की ताकि उनके बच्चों को किसी भी परेशानी ना हो और अगर मेैं इसका फायदा नही लूंगी तो उनकी बेज्जती होगी.  सोनम ने इस बात का लॉजिक बताते हुए कहा कि सभी के माता-पिता अपने बच्चों के लिए काम करते हैं. 

नेपोटिज्म को लेकर पिछले दिनो एक्ट्रेस राधिका आप्टे ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि अगर वह फिल्म निर्देशक होती तो वह अपने बेटे को बॉलीवुड में नहीं लॉन्च करती. खैर सभी का नेपोटिज्म के लेकर अलग-अलग विचार हैं.  एक तरफ सोनम कपूर का इस टॉपिक पर अलग विचार हैं वही कंगना भी इस टॉपिक पर अलग विचार रखती हैं. कॉफी विद करण के शो के दौरान फिल्म निर्देशक करण जौहर पर कंगना ने नेपोटिज्म का आरोप लगया था. 

सोनम कपूर हाल में फिल्म एक लड़की को देेखा में नजर आई थी.  इस फिल्म में इनके साथ पापा अनिल कपूर और राजकुमार राव नजर आए थे.  सोनम फिल्म निर्देशक जोया अख्तर की अगली फिल्म में नजर आएंगी. 

सोनम कपूर की निजी जिंदगी की बात की जाए तो उन्होंने आनंद अहूजा से शादी की है. इनकी शादी के फोटो-वीडियो भी काफी देखने को मिले थे. सोशल मी़डिया पर अक्सर सोनम कपूर पति आनंद के साथ फोटो-वीडियो शेयर करती रहती हैं.

Mental Hai Kya Movie Release Date: कंगना रनौत-राजकुमार राव की मेंटल है क्या के नए पोस्टर के साथ फिल्म की रिलीज डेट का ऐलान

Kalank Movie Critic Review: रिश्तों में इमोशंस का हैवी डोज है वरुण धवन- आलिया भट्ट की कलंक

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App