बॉलीवुड डेस्क, मुंबई. बॉलीवुड के शोमैन राज कपूर का आज जन्मदिन है. राज कपूर का जन्म 14 दिसंबर 1924 का जन्म पाकिस्तान के पेशावार में हुआ था. भारत और पाकिस्तान बंटवारे के वक्त उनके पिता पृथ्वीराज कपूर भारत आ गाए. उनकी रुचि थ‌िएटर में थी. उन्होंने अभिनय जगत में कई ऊंचाइयां हासिल की. उनके नक्‍शे कदम पर आगे बढ़े उनके बेटे राज कपूर ने हिन्दी सिनेमा में एक नया अध्याय लिख दिया, लेकिन इसकी शुरुआत के बारे में कम ही लोग जानते होंगे. बताया जाता है कि आज भी पाकिस्तान में कपूर खानदार के नाम की कपूर हवेली मौजूद है.

राज कपूर ने अभिनय के साथ-साथ डायरेक्शन, प्रोडक्शन और राइटिंग में हाथ आजमाया और वो इसमें कामयाब भी रहे. इतना ही नहीं राज कपूर अपनी तरह ही अपने तीनों बेटों को भी सफल बनाना चाहते थे, मगर बीच में कुछ हुआ ऐसा कि पिता और बेटे राजीव कपूर के बीच दरार आ गई. राज कपूर ने 11 साल की उम्र में फिल्म इंकलाब से अपने अभिनय की शुरूआत की थी. उस समय वे बॉम्बे टॉकीज़ स्टुडिओ में सहायक का काम किया करते थे. बाद में राज कपूर केदार शर्मा के साथ क्लैपर ब्वॉय का कार्य करने लगे.

कुछ लोगों का मानना है कि उनके पिता पृथ्वीराज कपूर को विश्वास नहीं था कि राज कपूर कुछ विशेष कार्य कर पायेगा, इसीलिये उन्होंने उसे सहायक या क्लैपर ब्वॉय जैसे छोटे काम में लगवा दिया था, लेकिन पृथ्वीराज कपूर के साथ रहने वाले एवं बाद के दिनों में राज कपूर के निजी सहायक और सहयोगी निर्देशक वीरेन्द्रनाथ त्रिपाठी का कहना है. इतना ही नहीं उस समय के प्रसिद्ध निर्देशक केदार शर्मा ने राज कपूर के भीतर के अभिनय क्षमता और लगन को पहचाना और उन्होंने राज कपूर को साल 1947 में अपनी फिल्म नीलकमल में हीरो की भूमिका दे दी.

Also Read…

Shahrukh Khan Next Film: शाहरुख खान मलयालम डायरेक्टर आशिक अबु की एक्शन ड्रामा फिल्म में आएंगे नजर, अगले साल शुरू होगी शूटिंग

View this post on Instagram

? |song-mera joota hai japani Singer-mukesh Music-shankar jaikishan Lyricist-Shailendra Movie-shree 420 . : : Mera Joota Hai Japani Yeh Patloon Englishtani Sar Pe Laal Topi Roosi Phir Bhi Dil Hai Hindustani ❤❤damnn true hum chahe kahu bhi chale jaaye par dil mein hindustan hamesha rahega?today's day 26/11!rip to all those brave hearts?always in heart and prayers? . : : The blockbuster of 1955 Shree 420 was screened at Bharat Bhavan to mark the closure of Ekagra Film Festival. The film festival was organised to pay a tribute to the showman of Bollywood Raj Kapoor. Last movie in the series Shree 420 was screened here on Sunday. Shree 420 is a 1955 Hindi film, directed and produced by Raj Kapoor, written by Khwaja Ahmad Abbas, and starring Raj Kapoor and Nargis. The number 420 refers to Section 420 of the Indian Penal Code, which prescribes the punishment for the offence of cheating; hence, Shree 420 is a derogatory term for a cheat. The film centers on Raj, a poor but educated orphan who comes to Bombay with dreams of success. Kapoor's character is influenced by Charlie Chaplin's little tramp. The music was composed by the team of Shankar Jaikishan, and the lyrics were penned by Shailendra. Shree 420 was the highest-grossing Indian film of 1955. Wearing torn Japanese shoes, English trousers, a red Russian cap, and a Hindustani heart, orphaned Ranbir Raj comes to Bombay to make his fortune.  It's literally must watch movie?❤ . : : #rajkapoor #mukesh #shankarjaikishan #shailendra #oldbollywood #oldsong #goldenera #oldisgold #love #legend #retro #shree420 #merajootahaijapani

A post shared by ?OLD BOLLYWOOD SONGS ❤ (@theoldbollywood) on

बता दें कि इसके अलावा राज कपूर ने 24 साल की उम्र में फिल्म आग के निर्देशन से वह सबसे युवा फिल्म निर्देशक बनकर सामने आए. साल 1948 में उन्होंने आरके फिल्मस के नाम से फिल्म स्टूडियो बनाया. इस स्टूडियो की पहली हिट फिल्म थी बरसात. इस फिल्म में उनका और नरगिस का एक सीन इतना पसंद किया गया कि बाद में वही आर के फिल्म्स का लोगो भी बना. राज कपूर का असली नाम रणबीर था, जो कि अब उनके पोते का नाम है.

View this post on Instagram

Happy Birthday To #RajKapoor (14/12)

A post shared by Vijay Kumar (@aapkavijay) on

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर