बेंगलुरु, कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार ( Puneet Rajkumar death ) का 46 वर्ष की आयु में दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुआ निधन. निधन में बाद राजकीय छुट्टी की घोषणा की गई है. पुनीत राजकुमार के निधन से कन्नड़ सिनेमा को बहुत बड़ा झटका लगा है. कन्नड़ सिनेमा के लिए पुनीत राजकुमार का चले जाना किसी नायब हीरे के खोने जैसा है. पुनीत राजकुमार ने कई बेहतरीन फिल्में की है. कल उनके सीने में अचानक दर्द हुआ था, जिसके बाद उन्हें बेंगलुरु के अस्पताल में भर्ती करवाया गया था और आज दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया. उनके निधन की जानकारी क्रिकेटर वेंकेटेश प्रसाद ने ट्वीट कर दी.

हॉस्पिटल के बाहर उमड़ा फैंस का काफिला

बीती रात अभिनेता पुनीत राजकुमार को अचानक सीने का दर्द उठा, जिसके बाद उन्हें बेंगलुरु के अस्पताल में भर्ती कराया गया. पुनीत राजकुमार आईसीयू में एडमिट थे, लेकिन अचानक दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई. इस बार में क्रिकेटर वेंकेटेश ने ट्वीट कर जानकारी दी. उन्होंने लिखा, ‘ये बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि एक्टर पुनीत राजकुमार नहीं रहे. उनके परिवार, दोस्त और फैंस को मेरी संवेदनाएं.’ इसके साथ ही उन्होंने फैंस से प्रार्थना की कि वो शांति बनाए रखें और उनके परिवार का सहयोग करें. ॐ शान्ति।”

नेशनल अवार्ड विजेता थे पुनीत राजकुमार

पुनीत राजकुमार ने कन्नड़ सिनेमा कई अद्भुत फिल्में दी हैं. पुनीत राजकुमार ने तकरीबन 29 कन्नड़ फिल्में की है. उनकी 1985 में रिलीज हुई फिल्म ‘Bettada Hoovu’ के लिए उन्हें बेस्ट चाइल्ड एक्टर के लिए नेशनल अवार्ड मिला था. पुनीत राजकुमार को ‘अभी’, ‘वीरा कन्नडिगा’, ‘अजय’, ‘अरासु’, ‘राम’, ‘हुडुगारु’ और ‘अनजनी पुत्र’ जैसी फेमस फिल्मों के लिए जाने जाते हैं. उन्हें आखिरी बार फिल्म ‘Yuvarathnaa’ में देखा गया था.

यह भी पढ़ें :

Air Pollution: यूपी समेत इन राज्यों में बढ़ने लगा वायु प्रदूषण, जानिए अपने शहर का हाल

Pakistani Singer Abrar Ul Haq के गाने ‘बेगम शक करती है’ पर विवाद!

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर