नई दिल्ली. बॉलीवुड फिल्में समाज का आइना होती हैं. बदलते दौर में फिल्मों का तौर तरीके भी बदल रहा है. आज फिल्मों की जगह वेब सीरीज लेती जा रही हैं, ये दर्शकों को बहुत तेजी से अपनी तरफ आकर्षित कर रही हैं. वेब सीरीज की आज के समय में टीवी सीरियल्स और फिल्मों से ज्यादा डिमांड की जा रही है. इन वेब सीरीज की कहानियो में न ही सास बहु का ड्रामा है और न ही लंबे ब्रेक होते हैं.

वेब सीरीज में निर्देशक दर्शकों को कुछ नयापन परोसने की कोशिश करते हैं और यही वजह है कि आज के समय में इनमें निर्देशक नयापन की जगह फूहड़पन और अश्लीलता परोस रहे हैं, जिसका हमारे समाज पर काफी असर पड़ रहा है. गंदी बात, XXX, माया जैसी वेब सीरीज ने नंगापन दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ी.

इंटरनेट पर सेंसरशिप को लेकर कोई नियम नहीं है ऐसे में इस छूट का कुछ लोग गलत फायदा भी उठा रहे हैं. ऐसे दौर में जब महिलाओं के खिलाफ यौन हिंसा को लेकर पूरे देश में उबाल है, हमें वेब सीरीज के कंटेंट को लेकर भी गंभीर बहस छेड़ने की जरूरत है.

कंटेंट के लिहाज से देखा जाए तो हर वेब सीरीज सेक्स सीन और बोल्डनेस भरपूर होती है. कहीं ना कहीं सोशल मीडिया पर वेब सीरीज को प्रमोट करने के लिए बोल्डनेस और अश्लील सीन एक अलग तरह की टीआरपी भी देते है. जिस तरह फिल्मों में पहले आइटम सॉन्ग का इस्तेमाल दर्शकों को आकर्षित करने के लिए किया जाता है. ठीक वैसा ही नाता अब अश्लील कंटेंट, गालियां. बोल्ड सीन और वेब सीरीज का हो गया है.

इतना ही नहीं सुपरस्टार्स और एकता कपूर, विक्रम भट्ट जैसे निर्देशक भी अपनी हदें पार करते हुए यानी अश्लील कंटेंट और गालियां दिखाने से परहेज नहीं कर रहे हैं. चाहे फिर मिर्जापुर की बात करें, सेक्रेड गेम्स या रंगबाज जैसी वेब सीरीज की. वहीं बोल्ड सीन्स तो इन वेब सीरीज के लिए सोने पर सुहागा की तरह काम कर रहे हैं.

फिल्मों और टीवी सीरीयल्स में जो सीन्स शालीनता से दिखाए जाते हैं. उनसे दस कदम आगे ये वेब सीरीज हैं, जहां हर सीन में नंगापान चरम पर दिखाया जाता. वेब सीरीज में बोल्ड सीन्स इस कदर हावी हो गए हैं कि यहां एक्टर एक्ट्रेस कपड़े उतारने से जरा भी नहीं कतराते हैं. कई वेब सीरीज में तो सेलेब्स को करीबन न्यूड दिखाया गया है, फिर चाहें वो एक्टर हो या फिर एक्ट्रेस.

महिलाओं के प्रति बढ़ती हिंसा और वेब सीरीज का रिश्ता

एक तरफ देश में जहां महिलाओं की सुरक्षा पर बात करते हैं वहीं दूसरी ओर इन वेब सीरीज में नंगापान खासकर की एक्ट्रेस के बोल्ड सीन्स दर्शकों को परोसे जा रहे हैं. जिस समाज में महिलाओं को सशक्त बनाने और पुरुषों से कदम मिलाकर चलने की बात की जाती है. उसी समाज में महिलाओं के न्यूड सीन्स दर्शकों को परोसे जाते हैं.

देश में बालात्कार और महिलाओं के साथ छेड़छेाड़ की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं. पिछले कुछ दिनों की खबरों पर नजर डालें तो उसमें महिलाओं के साथ रेप कर उसे जिंदा जलाने की कई खबरें सामने आ रही हैं. हैदराबाद में डॉक्टर के साथ गैंगरेप और बाद में उसे जिंदा जलाकर बेहरमी से हत्या के मामले ने पूरे देश को अंदर से झंझोर कर रख दिया.

जब भी ऐसी कोई घटना होती है तो फिल्ममेकर, निर्देशक, सुपरस्टार सेलिब्रिटी सब रोड़ पर उतर आते हैं. महिला सुरक्षा और उनके आत्मसम्मान की बड़ी बड़ृी बातें करते हैं लेकिन वही निर्देशक और फिल्ममेकर फिल्मों और वेबसीरीज में महिलाओं के बोल्ड और अश्लील सीन्स मनोरंजन के रूप में दर्शकों के सामने परोस रहे हैं.

सेंसर बोर्ड की चिंता नहीं

वेब सीरीज में निर्देशकों को सेंसर बोर्ड की कोई टेंशन नहीं होती. वेब सीरीज में कंटेंट परोसने के कोई नियम और कानून नहीं है. फिल्मों में जब भी सेंसर बोर्ड को कोई सीन पसंद नहीं आता या आपत्तिजनक लगता है तो वह उसे काट देते हैं. लेकिन वेब सीरीज में इसे लेकर ना तो कोई नियम है ना कोई लगाम लगाने वाला. यही वजह है कि निर्देशक बिना किसी की परवाह किए दर्शकों को अश्लील कंटेंट परोस रहे हैं.

सस्ता इंटरनेट

वेब सीरीज का ट्रेंड बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है सस्ता इंटरनेट. दरअसल भारत में कई देशा के मुकाबले सस्ता इंटरनेट है और यही वजह है कि कोई भी आसानी से इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकता है. अगर देखा जाए तो इंटरनेट के मुकाबले फिल्म के टिकट और डीटीएच का रिचार्ज महंगा होता है. वहीं टीवी सीरियल में एक दो साल तक एक ही कहानी चलती है और हर दिन इसे एक ही वक्त पर देखने का भी काफी झमेला होता है. लेकिन वेब सीरीज में ऐसा नहीं है, यहां एक सीरीज में लगभग 8-10 एपिसोड होते हैं. वेब सीरीज का एक एपिसोड 20 से 25 मिनट तक का होता है. जिसे हम अपने मोबाइल में कहीं भी और कभी भी देख सकते हैं.

समाज पर वेबसीरीज का प्रभाव

फिल्मों और वेबसीरीज का सबसे ज्यादा प्रभाव युवाओं पर पड़ता है. इनसे प्रभावित होकर ही युवा अपने लाइफस्टाइल, फैशन को अपनाते हैं. वेबसीरीज में अश्लीलता और गालियों को खुलकर दिखाया जाता है और इन सब का गहरा असर युवाओं पर भी पड़ रहा है. वेबसीरीज में दिखाए जाने वाले नशे, रंगीन लाइफस्टाइल में जीना युवाओं की पसंद बन जाती है.

कंटेंट क्वीन एकता कपूर के दामन पर भी हैं दाग

टीवी सीरियल्स और बॉलीवुड फिल्मों में एकता कपूर निर्देशक और निर्माता के तौर पर काफी बड़ा नाम हैं. एकता कपूर ने अपनी वेबसीरीज गंदी बात और XXX में फूहड़पन और गंदेपन की सारी सीमा लांघ दी हैं. एकता कपूर अपने वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म अल्ट बालाजी पर गंदी बात नाम से एक वेबसीरीज लेकर आईं.

जिसमे समाज की सभी तरह की औरतों के साथ हो रहे शारीरिक शोषण दिखाया गया है. हद तो तब हो गई जब एक सांप को महिला के साथ संभोग करता हुआ दिखाया गया. इस वेबसीरीज में इतना फूहड़पन दिखाया गया है कि इसे अकेले बैठकर देखना ही ठीक होगा. एकता कपूर का टीवी सीरियल हो बॉलीवुड फिल्म हो या वेबसीरीज सब में बोल्ड सीन्स जरूर देखने को मिलेगा.

वेबसीरीज और बॉलीवुड फिल्में ही नहीं एकता कपूर ने तो टीवी सीरियल में भी गंद मचाई हुई है. टीवी सीरियल जिन्हें लोग घर परिवार के साथ बैठकर देखना पसंद करते हैं, उनमें भी आज ऐसा कंटेंट और बोल्ड सीन्स दिखाए जा रहे है, जिन्हें आप परिवार के साथ बैठकर नहीं देख सकते हैं. पहले एकता कपूर ने अपने सीरियल्स के जरिए लोगों के बीच अंधविश्वास फैलाया और अब दर्शकों को बोल्ड सीन्स परोस रही हैं.

Also Read, ये भी पढ़ें- Shah Rukh Khan On Film Direction: निर्देशक बनूंगा तो हो जाऊंगा उदास और अकेला- शाहरुख खान

Diljit Dosanjh Sonam Bajwa New Song Look Photo: दिलजीत दोसांझ और सोनम बाजवा अपने नए गाने में पंजाबी स्टाइल में मचाएंगे धमाल, ओल्ड एज लुक फोटो वायरल

Rajasthan Minister Demands Ban On Panipat Movie: संजय दत्त, अर्जुन कपूर और कृति सैनन की फिल्म पानीपत पर विवाद, राजस्थान पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने महाराजा सूरजमल के किरदार पर जताई आपत्ति, बैन की मांग

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App