बॉलीवुड न्यूज, डेस्क.  लस्ट स्टोरीज, इस फिल्म का नाम ही कुछ ऐसा है कि नेटीजंस को इस फिल्म के लिए क्रेज हो सकता है, उससे भी ज्यादा दिलचस्प बात ये कि इसकी अलग अलग कहानियों को ‘बॉम्बे टॉकीज’ के चारों नामचीन डायरेक्टर्स ने डायरेक्टर किया है, यानी करण जौहर, अनुराग कश्यप, दिबाकर बनर्जी और जोया अख्तर, लेकिन नाम पर ना जाएं क्योंकि आप हॉट सींस की हसरत में इस फिल्म को ना देखें, बल्कि सैक्सुअल लाइफ के चार चैप्टर पढ़ने के लिए जाएं, जिनके केन्द्र में महिलाएं हैं जबकि सेंट्रल किरदारों में हैं राधिका आप्टे, भूमि पेडनकर, मनीषा कोइराला, कियारा आडवाणी और कुछ हद तक नेहा धुपिया भी. हर एक की सैक्स स्टोरी में कुछ ना कुछ लोचा है, सो अगर एंटरटेनमेंट के लिहाज से देखा जाए तो इसमें केवल करण जौहर पास होते हैं, बाकी सभी बोर करते हैं. ये भी लगता है कि कहीं बड़े डायरेक्टर्स के नाम पर उनके असिस्टेंट्स का काम तो नहीं… वो शब्द सुना ही होगा आपने- घोस्ट डायरेक्टर्स. हां, अगर आप शॉर्ट स्टोरीज के शौकीन हैं, तो आप इन्हें शॉर्ट सैक्स स्टोरीज के तौर पर देख सकते हैं.

पहले जान लें कि ये फिल्म ‘लस्ट स्टोरीज’ सिनेमाघऱों में नहीं बल्कि नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई है. पहली कहानी अनुराग कश्यप ने डायरेक्ट की, सेंट्रल किरदार राधिका आप्टे और ‘सैराट’ वाले लड़के आकाश का है. कुल जमा दो पूरे और तीन आधे करेक्टर्स यानी साढ़े तीन लोग हैं इस फिल्म में. जबकि दो घर, एक क्लास, एक कार और रेस्तरां में शूट से काम चल गया है. किरदार अनुराग की फिल्मों के जैसे हैं, लडका आपको गुलाल के हीरो जैसा लगेगा और लड़की अनुराग की कई फिल्मों में काम करने वाली बिंदास बालाओं जैसी. चूंकि उसका पति खुले दिमाग वाला था, कई महिलाओं से रिश्ते थे, सो वो राधिका को भी ऐसा करने की छूट देता है, लेकिन लस्ट के साथ लव भी शामिल होता है वो भी जलन के साथ. अपने स्टूडेंट से टीचर राधिका के करीबी रिश्ते और उसकी गर्लफ्रेंड से जलन को लेकर अनुराग ने डायरेक्ट की है ये कहानी. राधिका के किरदार में डर, जलन, प्यार, नफरत, गुस्सा आपको सब कुछ नजर आएगा. लेकिन फिर भी अनुराग के लेवल पर नहीं जाती ये कहानी.

लक बाई चांस और जिंदगी ना मिलेगी दोबारा जैसी बड़े कैनवास की फिल्मों के बाद केवल वन बैडरूम में एक बीस मिनट की फिल्म शूट करना मुश्किल था, वो भी सेंट्रल किरदार में एक मेड सुधा (भूमि पेडनकर) थी, जिसके अपने बेचलर मकान मालिक (नील भूपलम) से जिस्मानी ताल्लुकात हैं, ऐसे में उसी घर में उसी की नजरों के सामने उस लड़के की शादी तय होती है, तब भूमि के क्या एक्सप्रेशंस होते हैं, वही दिखाया है इसमें. यूं ये सबसे छोटी और साधारण सी कहानी थी, लेकिन वन बैडरूम फ्लैट के एक एक कौने को उस मेड के रोल के जरिए जोया ने कैसे दिखाया, ये कमाल है. आपको बिना जोया के नाम से ये स्टोरी दिखाई जाएगी तो आप इसे खारिज कर देंगे.

दिबाकर बनर्जी की कहानी भी कुछ ऐसी ही है, अगर दिबाकर का नाम ना हो तो आप कहेंगे कि कोई भी इसे बना लेगा। दिबाकर की कोई भी फिल्म हो एक खास देसीपन दिखता है, शानदार डायलॉग्स होते हैं. लेकिन यहां उनको एक शानदार बंगला, एक बीच और तीन किरदारों (मनीषा कोइराला, जयदीप अहलावत और संजय कपूर) के साथ स्टोरी शूट करनी है. बाकी स्टोरीज जहां कई दिनों की थी, ये बस एक दिन एक रात की स्टोरी थी, सो कदरन आसान थी. दो बच्चों की मां मनीषा अपने पति संजय कपूर से नाराज है, क्योंकि वो उसे बीवी से ज्यादा मां के रुप में देखता है, लेकिन उसका पुराना दोस्त जयदीप उसे अभी भी पुराने तरीके से देखता है. वो बिंदास अपने पति को भी रिश्ते के बारे में बता देती थी, लेकिन संजय अपने दोस्त से ये राज छुपाना चाहता है कि उसे पता है. इसी कश्मकश में मनीषा जब आखिरी सीन में हंसते दिखाई जाती है, तो वो चालाक भी लगती है और निरे दर्जे की बेवकूफ भी, शायद ये अकेला सीन था, जिसमें दिबाकर का डायरेक्शन लगा, वरना घोस्ट डायरेक्शन लग रहा था

लेकिन करण जौहर सब पर भारी पड़ गए, उनका सब्जेक्ट भी मजेदार था और किरदार भी, साथ में उन्होंने फन, डायलॉग्स और गानों का भी छोंक लगा दिया. करण जौहर का फेवरेट सब्जेक्ट शादी भी था उनकी कहानी में, हालांकि शादी के बाद की कहानी ज्यादा फोकस में थी, यानी सैक्स की. नेहा धुपियां स्कूल में लाइब्रेरियन है, कियारा आडवाणी टीचर है, बिंदास नेहा को बाइब्रेटर इस्तेमाल करते देख सैक्स मे जल्दी फेल हो जाने वाले पति विकी कौशन से परेशान होकर वही इस्तेमाल करने का प्लान करती है. आगे की कहानी काफी फनी है, दरअसल करण ने अपनी कहानी को सैक्स कॉमेडी में तब्दील कर दिया.

रॉनी स्क्रूवाला की कंपनी आरएसवीपी और आशी दुआ की फ्लाइंग यूनीकॉर्न की ये वेब फिल्म अपने टाइटल ‘लस्ट स्टोरीज’ को लेकर पहले से ही चर्चा में आ चुकी है. वजह भी है करण जौहर, अनुराग कश्यप, जोया अख्तर और दिबाकर बनर्जी जैसे डायरेक्टर्स और मनीषा कोइराला, राधिका आप्टे, भूमि पेडनकर, कियारा आडवाणी, नेहा धुपिया, विकी कौशल, जयदीप अहलावत, संजय कपूर और सैराट वाले आकाश जैसे एक्टर्स भी. लेकिन एंटरटेनमेंट वैल्यू बस करण जौहर की कहानी की है, बाकी सब ज्ञान के लिए देखी जा सकती हैं, उनके लिए जिन्हें महिलाओं की हसरतों के बारे में जानने की जिज्ञासा रहती है.

डेस्टिनेशन वेडिंग की कर रहे हैं प्लानिंग तो जानिए उससे जुड़ी ये खास बातें

IIFA 2018 Film Awards: बैंकॉक में आइफा 2018 के लिए ये सारे बॉलीवुड सितारे पहुंचे थाइलैंड, स्टेज पर होगा फिल्मी धमाल

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App