Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

 Green Tea पीने के फायदे जानकर, आज से पीना कर देंगे शुरू

0
Green tea benefits: ग्रीन टी (Green tea) से होने वालों फायदों को लेकर तमाम दावे किए जाते हैं. कुछ लोग कहते हैं कि ग्रीन...

इन सवालों से समझें पूरे गुजरात चुनाव का गणित: क्यों AAP का दिल्ली मॉडल...

0
गाँधीनगर: यदि गुजरात में इस ऐतिहासिक भाजपा जीत के पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के अलावा कोई महत्वपूर्ण कारण है, तो वह है...

Himachal Election Result 2022: अन्य के खाते में आई 3 सीटे, जाने किसने की...

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है।कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

हिमाचल से जीतने के बाद कांग्रेस विधायकों की चंडीगढ़ में बैठक, राजस्थान या छत्तीसगढ़...

0
नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक दल की बैठक चंडीगढ़ में होगी। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पहले यहां चंडीगढ़ में जीते हुए विधायक...

Himachal Election Result 2022: कांग्रेस ने मारी बाजी, जाने हर सीट के नतीजे

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है। कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

पहली नहीं बल्कि तीसरी बार अजय देवगन को मिला नेशनल फिल्म अवार्ड

मुंबई: 68th National Film Awards Ceremony: 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के दौरान बॉलीवुड सुपरस्टार अजय देवगन (Ajay Devgn) को फिल्म तान्हाजी (Tanhaji) के लिए बेस्ट एक्टर के अवार्ड से नवाजा गया। बता दें कि इन अवॉर्ड्स की घोषणा बीते 22 जुलाई को हो चुकी थी ,ऐसे में 30 सितंबर को इस पुरस्कार को जीतने वालों को अवॉर्ड देखर सम्मानित किया गया। ये अवॉर्ड्स राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने सभी विजेताओं को दिए। सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार अजय देवगन को उनकी फिल्म तानाजी के लिए मिला है। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि अजय ने नेशनल अवार्ड जीता हो। जी हाँ! अजय पहले भी नेशनल अवार्ड जीत चुकें हैं।

तीसरी बार जीता अवार्ड

आपको बता दें, ये कोई पहला बार नहीं था जब उन्होंने राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता हो। उन्होंने पहली बार साल 1998 में आई महेश भट्ट की फिल्म जख्म में अपनी बेहतरीन एक्टिंग से लोगों का दिल जीता था। इस फिल्म के लिए भी उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

इसके बाद उन्हें साल 2002 में आई फिल्म द लीजेंड ऑफ भगत सिंह में भगत सिंह की भूमिका के लिए दूसरी बार राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया था। और अब तीसरी बार उन्हें अपनी फिल्म तानाजी के लिए 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला है।

आशा पारेख का किया सम्मानित

जब भी 60 और 70 के दशक की सबसे बेहतरीन अभिनेत्रियों की चर्चा होती है तो उसमें आशा पारेख का नाम शामिल होना स्वाभाविक है। अपने समय में आशा पारेख ने सिनेमा जगत में राज किया। हालांकि आशा पारेख ने भी अपने जिंदगी में कई संघर्ष देखे और कई फिल्मों से रिजेक्ट हुई लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी। इसी बात का नतीजा है आज 30 सितंबर को 68वां राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से आशा पारेख को सम्मानित किया जा रहा है।

 

करण ने किया तेजस्वी का करियर खराब? हुए ट्रोल

बेटी को जिंदा करने के लिए करते रहे तंत्र मंत्र, शव से दुर्गंध आने लगी तब हुआ खुलासा

Latest news