मुंबई. मल्लिका शेरावत एक बेहतरीन अदाकारा हैं। भले ही वह आज फिल्मों से दूर हैं लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब उनकी अदाओं ने लोगों को दीवाना बना दिया था। अब हाल ही में उन्होंने एक इंटरव्यू दिया है. इसमें उन्होंने अपने करियर और अपने साथ हुए गंदे वाक्यों के बारे में बताया। साथ ही उन्होंने बताया कि कैसे पहले बोल्ड सीन करने के लिए सिर्फ महिलाओं को निशाना बनाया जाता था और पुरुष हमेशा इससे दूर रहते थे. मल्लिका के मुताबिक, ‘यह पितृसत्तात्मक व्यवस्था है। पुरुष सब कुछ छीन लेते हैं और इसके लिए महिलाओं को दोषी ठहराया जाता है। ‘

कुछ सालों में लोगों की मानसिकता बदली

साथ ही उन्होंने आगे कहा कि पिछले कुछ सालों में लोगों की मानसिकता बदली है. न केवल मीडिया बल्कि समाज भी आज महिलाओं के प्रति काफी सहयोगी है. मल्लिका ने आगे बताया कि ‘आजकल न्यूड सीन करने वाली एक्ट्रेसेस स्वीकार किए जाते हैं। इसे कलात्मक भी माना जाता है।’

एक मशहूर वेबसाइट से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मेरे पास जो कुछ है उसके लिए मैं बॉलीवुड का आभारी हूं। मैं कौन थी ? इस जगह ने मुझे करियर दिया, एक नाम दिया। मैं अपनी शर्तों पर जीवन जी सकता हूं और अपनी फाइनेशियल इंडिपेडनसी का आनंद ले सकती हूं। मेरे पास है कुछ शानदार लोगों के साथ काम करने मौका मिला। किसी को भी ऐसा जीवन नहीं मिलता। आज, महिलाओं के लिए ऐसी महान भूमिकाएं लिखी जाने से चीजें बेहतर हो गई हैं। मैं बहुत उत्साहित महसूस करता हूं। यह मेरे जैसी अभिनेत्रियों को आशा देता है। यह एक है कलाकारों के लिए सुनहरा दौर। अब अगर काम की बात करें तो मल्लिका आखिरी बार ‘नाकाब’ में आई थीं जिसमें ईशा गुप्ता और गौतम रोडे भी मुख्य भूमिकाओं में हैं।

Sushant Singh Birthday Special : इन 5 फिल्मों से बने थे सुशांत सिंह राजपूत स्टार, जानिए एक्टर के जन्मदिन पर अनकही बातें

Deepika and Siddhant movie release date Extend : दीपिका की अपकमिंग फिल्म ‘गहराइयां’ पर छाया कोरोना संकट, बढ़ाई गई रिलीज डेट

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर