नई दिल्ली : जैसे ही प्रज्ञा को ये पता चलता है कि किसी ने जूलर के यहां से खाली बैग लेकर उसपर अभि का नाम लिखा है प्रज्ञा परेशान हो जाती है वो पागलों की तरह अभि के हर फैन का गिफ्ट खोल देखना चाहती है कि कहीं उसमें ऐसा कुछ तो नही है जिससे अभि को नुक्सान पहुंच सकता है.

प्रज्ञा की हरकत को तन्नु समझ नही पाती है वो अलिया को कहती है कि उसने प्रज्ञा को पार्टी खराब करते हुए देखा है वो खुश होती है कि कहीं प्रज्ञा और अभि के बीच लड़ाई तो नही हुई लेकिन आलिया उसकी आंखे खोलती है और कहती है कि प्रज्ञा और अभि कभी भी अलग नही हो सकते.

पूरब प्रज्ञा को समझाता है कि वो पार्टी कैंसल करने से अच्छा है कि वे उस किलर को पकड़ेगें फिर पार्टी इंजॉय करेंगे. वो सारे कैमरों से सबपर नजर रखने की बात करता है हर आने जाने वालों नजर रखेंगे. प्रज्ञा को पूरब की बात ठीक लगती है वो दिशा से किसी से भी इस बारे में बात ना करने के लिये कहता है.

उधर इन सब बातों से जान अभि अपने कमरे में तैयार होने आता है लेकिन बेचारे अभि को तो लगता है कि उसका जन्मदिन घर में किसी को याद नही ऐसे में वो क्यों तैयार हो, पर अगले ही पल वो कहता है कि इस घर में दिशा का पहला जन्मदिन है तो उसे उसके लिये तो तैयार होकर नीचे जाना ही पड़ेगा.

सिमोनिका अभि के घर आकर पार्टी की तैयारी का जायजा लेती है वो देखने आती है कि कब वो घर में बम ब्लास्ट कर सकती है. पूरब प्लान बनाता है किवो जो कोई भी हो जो पार्टी में खतरनाक इरादों से आना चाहता है वो पहले तो उसका ध्यान भटका देगा वो एक ड्रांस ट्रूप को घर पर बुलाता है जिसे देख सिमोनिका खुश हो जाती है कि वो डांस के इस शोर मे बम असानी से घर ले आएगी. 

अभि के बिना पार्टी शुरू तो हो जाती है लेकिन अभि दिशा के लियेही सही पार्टी में जाने की सोचता है. सिमोनिका घर के अंदर बम लेकर जाने को तैयार होती है लेकिन सिक्योरिटी चैक वाले उसे साइड लेकर समान की चैंकिग करते हैं जिससे सिमोनिका घबरा जाती है. लेकिन क्या सिमोनिका इतनी जल्दी हार मान लेगी. 

 

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App