पंजाब, अपने विवादों को लेकर सुर्ख़ियों में बनी रहने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत ( Kangana Ranaut ) को किसानों ने रूपनगर-कीरतपुर साहिब मार्ग पर बूंगा साहिब के पास रोक लिया, यहाँ किसानों ने उनके खिलाफ नारेबाजी की और उन्हें माफ़ी मांगने को कहा. अंत में, कंगना ने जब माफ़ी मांगी तब ही किसानों ने उनके काफिले को जाने दिया.

महिलाओं ने कंगना के काफिले को रोका

अभिनेत्री कंगना रानौत का काफिला आज रूपनगर-कीरतपुर साहिब मार्ग की ओर जा रहा था जब बुंगा साहिब के पास उन्हें किसानों ने रोक लिया. इस दौरान किसानों ने उनका पुरजोर विरोध किया. महिलाओं ने विशेष तौर पर अभिनेत्री के काफिले को पूरी तरह रोक लिया. उनका कहना था कि जब तक अभिनेत्री अपने दिए हुए बयानों के लिए माफ़ी नहीं मांग लेती तब तक उन्हें जाने नहीं दिया जाएगा. कंगना ने स्थिति को हाथ से निकलते हुए देख माफ़ी मांगी. मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल भी पहुंच गया, लेकिन किसानों की बढ़ती संख्या के कारण भारी पुलिस बल होने के बावजूद भी बिना माफ़ी मांगे कंगना वहां से निकल न सकी.

किसानों को लेकर दिया था ये बयान

एक्ट्रेस ने बीते दिनों सोशल मीडिया पर लिखा था जिसमें उन्होंने सिख समुदाय के खिलाफ आपत्तिनक भाषा का इस्तेमाल किया था. उन्होंने लिखा था, ‘खालिस्तानी आतंकवादी शायद आज सरकार का हाथ मोड़ रहे हैं, लेकिन भारत की इकलौती प्राइम मिनिस्टर को मत भूलिए, जिन्होंने इनको अपनी जूती के नीचे दबा दिया था. उन्होंने इस देश के लिए पता नहीं कितना सहा है. उन्होंने अपनी जिंदगी के बदले, इन्हें मच्छरों की तरह कुचला है, लेकिन देश के टुकड़े नहीं होने दिए. उनकी मौत के दशकों बाद भी आज तक ये उनके नाम से कांपते हैं. इनको वैसा ही गुरु चाहिए.’ बता दें कि कंगना के इस पोस्ट के बाद सोशल मीडिया पर अच्छा ख़ासा बवाल मच गया था, और अपने इसी बयान के चलते कंगना आज किसानों के बीच घिर गई थी.

यह भी पढ़ें:

Surya Grahan: जानें कल भारत में कब लगेगा सूर्य ग्रहण, कितना होगा असर?

IND vs NZ 2nd Test 1st Day Live Updates मयंक अग्रवाल ने जड़ा करियर का चौथा शतक भारत का स्कोर 200 पार