नई दिल्ली : तारा को लेकर दीप लव डेट के लिये गया था लेकिन पिछे से घर में कल्याणी रोमा पर वार कर देती है. रोमा दीप को फोन लगाती है और उसे जल्दी आने के लिये कहती है. दीप तारा को कहता है कि कल्याणी घर में घुस आई है तारा पूछती है कि कल्याणी कौन है जिसे दीप कहता है कि उसका अधूरा काम है जो रूक गया है.

रोमा को कल्याणी चाकू मारने की कोशीश ही करती है कि अचानक से वहां दीप आ जाता है दीप रोमा के कमरे में जाता है जिसे देख कल्याणी वहां से भागती है कल्याणी को दीप पकड़ने वाला ही होता है कि अचानक वहां आरोही पावर कट कर देती है जिससे वहां अंधेरा हो जाता है और कल्याणी वहां से भाग निकलती है.

दीप घरवालों को कहता है कि वो कल्याणी को पकड़ कर ही रहेगा. वहीं अचानक विराज आ जाता है वो दीप से कहता है कि आज जो भी हुआ उसका कारण सिर्फ दीप ही है वो कहता है कि उसे कोई जरूरत नही थी कि वो घर से बाहर जाए.दीप कहता है कि वो सिर्फ विराज के कारण ही गया था जिसे सुन विराज गुस्सा हो जाता है और दीप को जोर का एक तमाचा जड़ देता है.

ये सब देख आरोही खुश हो जाती है. और कहती है कि जानवरो के इस कुनबे में उसने आपसी मतभेद की दिवार आखिर खड़ी कर ही दी. दीप गुस्से में कमरे में आता है और तोड़ फोड़ शुरू कर देता है. आरोही जले में नमक छिड़कने के मकसद से उसके पास जाती है और कहती है कि वो घर का दामाद है वॉचमैन नही जिसे सुन दीप कहता है कि उसे अच्छा लगा कि किसी ने तो उसका साथ दिया. दरअसल आरोही की ये चाल है कि वो पहले दीप के दिल में प्यार भरेगी और फिर उसे जान से मार देगी. वो कल्याणी को ढूढ़ने निकल जाता है.

दीप घर वापस आता है और कहता है कि कल्याणी का पता चल चुका है वो हथियार खरिदने एक पुरानी बस्ति में जाने वाली है जहां वे लोग उसे पकड़ लेंगे. ये सब वहां खड़ी आरोही सुन लेती है. रोमा ये सुनकर खुश हो जाती है. विराज कहता है कि वो भी उसके साथ जाएगा और कल्याणी को गोली खुद मारेगा. अब देखना है कि क्या सच में वो लोग कल्याणी को मारने में कामयाब हो जाएंगे या हमेशा की तरह जीत आरोही की होगी.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App