बॉलीवुड डेस्क, मुंबई. Death Anniversary of Pran: बहुत  कम लोगों को पता है कि प्राण को क्रिकेट का कितना शौक था, यहां तक कि वो मुंबई में क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया के सदस्य बन गए थे. ब्रेबोर्न स्टेडियम में होने वाले हर बड़े मैच को प्राण देखने जाया करते थे. सीसीआई के बाहर टिकट लेने वालों में वो सबसे आगे होते थे, सुबह पांच बजे से ही पहुंच जाया करते थे. कई दोस्तों ने एक मैच देखने वालों का एक ग्रुप बना लिया था, फ्लास्क्स में ह्विस्की भरकर स्टेडियम में पहुंचता था ये ग्रुप. शायद इसी शौक के चलते उन्होंने ना केवल एक बार युवा खिलाड़ी कपिल देव की तब मदद करने का ऐलान किया, जब सरकार ने भी हाथ खींच लिए थे.

उन दिनों संजय दत्त की मां नरगिस के भाई अख्तर हुसैन को फुटबॉल का शौक था, उसके जरिए प्राण को भी फुटबॉल भाने लगी. एक दिन प्राण ने अपनी फुटबॉल टीम ही उस वक्त में खड़ी कर दी थी, और दो साल तक अपने खर्चे से उसे चलाते रहे थे. लेकिन क्रिकेट से उनका वास्ता पूरी तरह नहीं टूटा था. क्रिकेट से जुड़ा एक वाकया उनका बड़ा ही चर्चित है, जब 1979 में दिल्ली के एक टेस्ट मैच में आसिफ इकबाल की अगुवाई में पाकिस्तान की टीम ने भारत की टीम को हार के कगार पर ला दिया था तो पाकिस्तान के बोर्ड अधिकारियों ने ऐलान कर दिया कि अगर पाक मैच जीता तो वो सभी खिलाडियों को एक एक गोल्ड मैडल देंगे.

प्राण को पता चला कि उन्होंने भी भारत के बोर्ड अधिकारियों को कहा कि अगर हमारे खिलाड़ियों ने ये मैच हारने से बचा लिया, ड्रॉ भी करवा दिया तो मैं उन्हें गोल्ड मैडल्स दूंगा. भारतीय टीम ने ये मैच बचा लिया, दिलीप वेंगसरकर की सेंचुरी ने मैच बचा लिया. तो प्राण ने सभी भारतीय खिलाडियों को तो गोल्ड मैडल दिया ही, पाकिस्तान के भी कई खिलाडियों को ये गोल्ड मैडल दिया, जिनमें 8 विकेट लेने वाले सिकंदर बख्त भी थे. लेकिन एक बार जब उन्होंने कपिल देव के बारे में एक अखबार में खबर छपी देखी तो वो काफी गुस्सा हो गए और उठाया एक बड़ा कदम.

पूरी कहानी जानिए, विष्णु शर्मा के साथ इस वीडियो स्टोरी में

Happy Birthday Ranveer Singh: रणवीर सिंह बनना चाहते थे स्क्रिप्ट राइटर लेकिन ऐसे बन गए एक्टर

कबीर खान निर्देशित रणवीर सिंह की फिल्म 1983 की रिलीज डेट का ऐलान, 10 अप्रैल 2020 को देगी सिनेमाघरों में दस्तक

फिल्म 83 में रणवीर सिंह कपिल देव के किरदार में आएंगे नजर, तो नवाजउद्दीन सिद्दीकी का भी होगा अहम रोल

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App