नई दिल्ली. Chhapaak Poster Photo Trailer Video: छपाक…, ये शब्द अक्सर लोग ऐसे समय में इस्तेमाल करते हैं, जब कुछ गिरने का एहसास या तो उन्हें थोड़े समय के लिए सुकून देता है या गहरे समय का घाव. मेघना गुलजार की फिल्म छपाक भी कुछ ऐसे ही गहरे जख्मों की कहानी है जो एक लड़की के शरीर पर नहीं, बल्कि आत्मा पर लगे थे. आज छपाक का ट्रेलर रिलीज हो गया है और इसे लोगों की मिश्रित प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं. मैं यहां ट्रेलर के बारे में ज्यादा बात नहीं करूंगा, बस छपाक के जुड़ीं कुछ ऐसी बातें साझा करूंगा जो शायद हर किसी के जेहन तक पहुंचनी चाहिए. मैं यहां बात करूंगा दीपिका पादुकोण की, जो लक्ष्मी अग्रवाल का किरदार निभा रही हैं.

लक्ष्मी अग्रवाल.., दिल्ली की एक अत्यंत साधारण लड़की, जिसके चेहरे एक लड़के ने इसलिए तेजाब फेंक दिया, क्योंकि लक्ष्मी ने उसके प्रेम प्रस्ताव को ठुकरा दिया था. एसिड अटैक के बाद लक्ष्मी शारीरिक और भावनात्मक रूप से काफी कमजोर हो गईं, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और आखिरकार संभलीं और बाद में उन्होंने समाज के सामने एक मिसाल पेश करते हुए तेजाब की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने जैसे मुश्किल काम को साकार किया. दीपिका पादुकोण इसी मुश्किल किरदार को परदे पर साकार करने की कोशिश में हैं और आज ट्रेलर में उनकी कोशिश का अंजाम भी दिखा.

दरअसल, दीपिका के लिए अपने करियर के ऐसे पड़ाव पर ऐसी चुनौतीपूर्ण भूमिका निभाना और ऐसे विषय को चुनना काफी साहसिक काम है. एसिड अटैक सर्वाइवर का किरदार निभाने में सबसे बड़ी चुनौती उनके सामने ये रही कि उन्हें लक्ष्मी अग्रवाल जैसा दिखना था और अपनी भाव-भंगिमा से इस कैरेक्टर को परदे पर जीवंत करना था. आज ट्रेलर देखकर और ट्रेलर रिलीज के वक्त दीपिका का फफक-फफकर रो पड़ने वाला वीडियो देखकर समझा जा सकता है कि दीपिका के लिए यह किरदार निभाना कितना चैलेंजिंग होगा.

Also Read ये भी पढ़ें- क्या अजय देवगन की तानाजी को बॉक्स ऑफिस पर मात देने में कामयाब हो पाएगी दीपिका पादुकोण की फिल्म छपाक ?

View this post on Instagram

@deepikapadukone @meghnagulzar @vikrantmassey87

A post shared by Ranveer Singh (@ranveersingh) on

अब बात करते हैं विक्रांत मैसी की तो वह लक्ष्मी अग्रवाल के पार्टनर और स्टॉप एसिड अटैक मुहिम के संस्थापक आलोक दीक्षित की भूमिका निभा रहे हैं. आलोक दीक्षित ने हर कदम लक्ष्मी अग्रवाल का साथ दिया और उनके संघर्ष में हर पल साथ रहते हुए उन्होंने लक्ष्मी को समाज में एक सम्मानजनक स्थान दिलाया और अपना हमदम बनाया.

छपाक की डायरेक्टर मेघना गुलजार ने राजी फिल्म के बाद एक बार और ऐसे विषय पर फिल्म बनाई है, जिसको लेकर लोगों का उत्साह देखने लायक है. छपाक सामाजिक सरोकार से जुड़ी ऐसी फिल्म है, जो कल्पनाओं की दुनिया से परे हकीकत के नाव पर सवार समय और समाज एवं लोगों की दुषित मानसिकता से भरी नदी से पार पाते दिखती है. अब ये देखना दिलचस्प है कि मेघना गुलजार छपाक के बहाने लोगों के दिलों को कितना छू पाती है.

Deepika Padukone Cries At Chhapaak Trailer Launch: छपाक ट्रेलर लॉन्च के दौरान रोने लगीं दीपिका पादुकोण, कहा- ये मेरे करियर की सबसे स्पेशल फिल्म

Chhapaak Trailer Review: दीपिका पादुकोण की छपाक ट्रेलर में चीखों के बीच गायब दिखा इमोशन, देखें ट्रेलर

Deepika Padukone Acting In Chhapaak: लक्ष्मी अग्रवाल के किरदार में दीपिका ने अपने शानदार अभिनय से फूंक दी जान, देखें छपाक का दमदार ट्रेलर

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर