Monday, December 5, 2022

अभिनेत्री आशा पारेख को मिला दादा साहब फाल्के पुरस्कार

मुंबई. दिग्गज अभिनेत्री आशा पारेख को आज दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से नवाज़ा गया है. अभिनेत्री को आज ये पुरस्कार दिया गया है. बीते दिन केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस बात की घोषणा की थी कि आशा पारेख को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार दिया जाएगा. पुरस्कार मिलने पर आशा जी ने कहा, ‘दादासाहेब फाल्के पुरस्कार प्राप्त करना एक बहुत बड़ा सम्मान है, मैं इसके लिए बहुत बहुत आभारी हूँ, मेरे 80वें जन्मदिन से ठीक एक दिन पहले मुझे ये सम्मान दिया गया है.’

बाल कलाकार के तौर पर की थी शुरुआत

आशा पारेख को आज कौन नहीं जानता है, लेकिन एक समय ऐसा था जब उन्हें कोई नहीं जानता था, मात्र दस साल की उम्र में उन्होंने सिनेमा जगत में कदम रख दिया था. उन्होंने 95 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय किया है.
इस साल आशा पारेख को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा, इस बारे में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने जानकारी दी कि इस साल 30 सितंबर को आशा पारेख को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा.

क्यों नहीं की शादी

सत्तर के दशक में आशा पारेख को नासीर हुसैन के लव अफेयर के चर्चे होने लगे थे, नसीर हुसैन ने ही आशा पारेख की फिल्म “दिल देके देखो” का निर्देशन किया था, कहा जाता है आशा पारेख मन ही मन नसीर हुसैन से बेहद मोहब्बत करती थी. लेकिन नसीर हुसैन तब शादीशुदा थे, इसीलिए दोनों की शादी नहीं हो सकी थी. एक इंटरव्यू के दौरान आशा पारेख ने इस बारे में कहा था कि वो नहीं चाहती थीं कि नासिर हुसैन कभी भी अपने परिवार से अलग हों, इसलिए उन्होंने कभी उनसे शादी नहीं की.

शादी नहीं करने का मलाल- आशा पारेख

आशा पारेख से जब शादी नहीं करने को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उन्हें शादी नहीं करने का मलाल तो है, लेकिन उन्हें लगता है कि यही होना लिखा था इसलिए ऐसा ही हुआ.

 

Congress President Election: कांग्रेस में अब खड़गे VS थरूर, किसके साथ गांधी परिवार?

शशि थरूर ने किया कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल

Latest news