नई दिल्ली. बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन ने कोरोना महामारी से निपटने के लिए अब तक 15 करोड़ रुपये दान किए है। ये जानकारी उन्होंने खुद सोशल मीडिया पर दी। उन्होंने कहा आगे भी वो मदद करने से पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा, ”अगर जरूरत पड़ती है, तो वह अपने ‘निजी कोष’ में से और योगदान देने से भी पीछे नहीं हटेंगे.”

दरअसल, अमिताभ पर सोशल मीडिया पर आरोप लगता आ रहा था कि वो एक बड़े स्टार होने के बावजूद किसी की सहायता करने के लिए आगे नहीं आए हैं। अब अमिताभ का ये पोस्ट सोशल मीडिया पर बात करने वाले उन लोगों के लिए जवाब के तौर पर देखा जा रहा है।

हाल में दिए थे 2 करोड़

हाल ही में बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन ने दिल्ली के एक कोविड सेंटर के लिए दो करोड़ रुपये दान किए थे. इतना ही नहीं, बच्चन कोविड सेंटर के आयोजकों को फोन कर रोजाना सुविधाओं का जायजा लेते रहते हैं. इस बात का खुलासा दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने एक ट्वीट करके जानकारी दी थी।

सिरसा ने जानकारी देते हुए लिखा, “सिख महान हैं, सिखों की सेवा को सलाम… यह शब्द थे अमिताभ बच्चन जी के जब उन्होंने श्री गुरु तेग बहादुर कोविड केयर फैसिलिटी के लिए 2 करोड़ रुपये का योगदान दिया. दिल्ली ऑक्सीजन के लिए जूझ रही है, अमिताभ जी ने करीब रोजाना मुझे फोन करके फैसिलिटी के बारे में जायजा लिया है.”

उनका मकसद ढिंढोरा पीटना नहीं

अमिताभ ने कहा कि उनका मकसद परोपकारी कामों में ढिंढोरा पीटने का नहीं है। उन्होंने कहा,” बेशक ये आंकड़े मेरी क्षमता से परे हैं लेकिन मैंने कार्य एवं श्रम किया और अपनी कमाई में से ऐसे जरूरतमंद लोगों को सहायता पहुंचाई जिन्हें इसकी सबसे ज्यादा आवश्यकता थी और ईश्वर की कृपा से यह राशि देने में समर्थ हो सका।”

उन्होंने लिखा, ” यह सब कुछ अन्य लोगों को भी आगे आने और दान करने को प्रोत्साहित कर सकता है।” बच्चन ने कहा कि उनके द्वारा विदेशों से खरीदे गए 20 वेंटिलेटर पहुंचने लगे हैं। 10 वेंटिलेटर की पहली खेप मुंबई पहुंच चुकी है और सीमा शुल्क विभाग की निकास अनुमति का इंतजार है। जल्द ही ये काम पर लग जाएंगे।

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर