मुंबई . एक्टर अभय देओल जब फिल्मों में डेब्यू करने वाले थे तब उन्होंने सोचा था की अपनी खुद की एक अलग पहचान बनाएंगे. क्योंकि अभय देओल फिल्मी बैकग्राउंड से थे, और अभय को अपने फिल्मी बैकग्राउंड के फेम के बारे में अच्छे से पता था. अभय ने कहा कि लोगों ने शुरू में उम्मीद की थी कि वे अपने चाचा धर्मेंद्र और चचेरे भाई सनी देओल के पदचिन्हों पर चलेंगे. लेकिन अभय देओल ने खुद की अपनी एक अलग पहचान बनाने के लिए अपने व्यक्तित्व के अनुसार फिल्मों का चयन किया. एक इंटरव्यू के दौरान अभय देओल ने बताया था कि “मुझे लगता है कि एक फिल्मी बैकग्राउंड से आने का मेरा फायदा है – मैंने प्रसिद्धि को देखा है, फिल्म उद्योग को बहुत करीब से देखा है की यह कैसे काम होता है. मुझे फेम को कोई लालच नहीं हैं. साथ ही अभय देओल ने ये भी कहा था की मुझे स्टार नहीं बनना, बस मुझे एक्टिंग करना बहुत पसंद हैं.

अभय ने कहा की मैं एक आम सा एक्टर हूं, इसलिए कभी भी स्टार बनने के बारे में नहीं सोचता. अभय देओल ने अपने करियर की शुरुआत इम्तियाज़ अली की फिल्म सोचा ना था से की थी. अभय ने यह भी बताया की वह फेम को लेकर हमेशा संदेह में थे जबकि फेम ने उनके दरवाजे पर दस्तक भी दी थी. 42 वर्षीय अभिनेता अभय का कहना है की अनुराग कश्यप द्वारा निर्देशित फिल्म देव डी हिट रही लेकिन अभय ने महसूस किया की उनकी सफलता नेगेटिव वे में उन्हें इफ़ेक्ट कर रही है.

उन्होंने कहा की फिल्म ने मुझे कहीं ना कहीं इफ़ेक्ट किया क्योंकि ना तो मैंने फिल्म को प्रमोट किया ना ही खुद को. लेकिन मुझे इसका कोई खेद नहीं हैं. क्योंकि इसने मुझे हमेशा ज़मीन पर रहने में मदद की. अभय ने कहा की मैंने कभी भी स्टार बैकग्राउंड से होने का फायदा नहीं उठाया.

रणवीर सिंह के खिलजी अवतार से डर गए सलमान खान,सिंबा के चलते बढ़ा दी दबंग की रिलीज डेट!

रेस 3 से लीक हुआ सलमान खान का एक्शन सीन, वीडियो देख बढ़ जाएगी फिल्म देखने की बेताबी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App