नई दिल्‍ली. ‘ऐ दिल है मुश्किल’ की मुश्किलें ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रही. इतने कॉन्ट्रवर्सी के बाद फिल्म के निर्माता व निर्देशक करण जौहर ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए एक वीडियो जारी किया है. करण ने इस वीडियो में बहुत ही भावुक बयान देते हुए कहा है कि कुछ लोगों को लगता है कि मैं एंटी नेशनल हूं तो मैं आपको क्लियर कर दूं ‘मेरे लिए देश पहले आता है’ .
 
करण ने आगे कहा कि हमें शुरू से सिखाया जाता है आपस में मिलजुल कर और शांति से रहना और मैं अपने काम और सिनेमा के जरिए इस प्यार को दिखा सकता हूं. आगे उन्होंने कहा कि पिछले साल सितंबर से दिसंबर के बीच मैंने फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ की शूटिंग पूरी की. उस समय क्लाइमेट- परिस्थियां सबकुछ अलग था. मैं आप सब की भावनाओं की कद्र करता हूं. क्योंकि मैं खुद इस भावनाओं से जुड़ा हुआ हूं.
 
जौहर ने पक्का भरोसा दिलाते हुए कहा कि ऐसी परिस्थती वह भविष्य में ‘पड़ोसी देश की प्रतिभाओं को मौका नहीं देंगे’, लेकिन करण ने कहा कि इस बात को भी अनदेखा नहीं कर सकते हैं कि इस फिल्म के क्रू मेंबर जिसमें  300 से अधिक भारतीयों ने इस फिल्म में अपना खून-पसीना बहाया है.
 
ऐसे में मैं नहीं समझता कि अन्य भारतीयों की ओर से किया जाने वाला यह विरोध उनके लिए न्यायसंगत होगा.’ (फिल्‍म निर्देशक अनुराग कश्‍यप बोले, मैंने इसलिए ‘पीएम मोदी से सीधे बात’ करना अधिक उचित समझा). करण ने आगे कहा कि आतंकवाद के खिलाफ मैं अपने देश के साथ हूं.
 
 
बता दें कि MNS नेता अमे खोपकर ने कल धमकी देते हुए कहा था,पार्टी पाकिस्तानी कलाकारों को काम देने और उन्हें बढ़ावा देने का समर्थन नहीं करती, इसलिए ऐसी फिल्मों का विरोध जारी रहेगा. खोपकर ने कहा, ‘हम शाहरूख खान की फिल्म ‘रईस’ का विरोध भी करेंगे, जो जनवरी में रिलीज होने वाली है. ‘निर्देशक करन जौहर की ‘ऐ दिल है मुश्किल’ में रणबीर कपूर, ऐश्वर्या राय बच्चन, अनुष्का शर्मा और पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान मुख्य भूमिका में हैं .