मुंबईबॉलीवुड एक्ट्रेस सोहा अली खान और वीर दास स्टारर अपकमिंग फिल्म ’31 अक्टूबर’ जो कि इंदिरा गांधी की हत्या के बाद भड़के सिख दंगों पर आधारित है. सोहा आजकल फिल्म के प्रमोशन में काफी बीजी हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सोहा ने प्रमोशन के दौरान सबसे दिलचस्प बात यह है कि उन्होंने कहा ‘यह फिल्म सिख दंगों की हकीकत से लोगों को रू-ब-रू कराएगी. ऐसे लोग, जिन्हें इन दंगों की वास्तविकता पता नहीं हैं, वे फिल्म देखकर उस दर्द को समझ पाएंगे, जिनसे पीड़ित गुजरे हैं.
 
अगले साल पंजाब विधानसभा चुनाव होने जा रहा है. यह पूछे जाने पर कि क्या इस फिल्म का पंजाब चुनाव पर असर पड़ेगा, सोहा कहती हैं, ‘यह फिल्म किसी भी राजनीतिक पार्टी का विरोध नहीं करती, फिल्म में सिर्फ सच्चाई उजागर की गई है. फिर भी इसका थोड़ा-बहुत असर पंजाब चुनाव पर तो पड़ेगा ही.
 
आगे उन्होंने कहा कि यह फिल्म कांग्रेस, भाजपा या आम आदमी पार्टी के बारे में नहीं है, बल्कि भाईचारे के बारे में है. फिल्म का विषय विवादास्पद होने की वजह से सेंसर बोर्ड की कैंची की धार फिल्म पर कुछ ज्यादा ही तेज रही है. इस पर सोहा कहती है, ‘सेंसर बोर्ड प्रमाणन बोर्ड है. वह सिर्फ फिल्मों को प्रमाणपत्र दे, बाकी दर्शकों पर छोड़ दे. दर्शक खुद तय करेंगे कि उन्हें क्या देखना है और क्या नहीं देखना है.’
 
ऱिपोर्ट्स के मुताबिक सोहा फिल्म में दो बच्चों की मां ‘तजिंदर कौर’ नाम की महिला का किरदार निभाएंगी. वहीं फिल्म में उनके पति बने वीर दास एक ऐसे सिख का किरदार निभा रहे हैं जिसका परिवार 1984 के सिख विरोधी दंगों में प्रभावित हुआ था. फिल्म का निर्देशन राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता शिवाजी लोतन पाटिल ने किया है.
 
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक यह फिल्म 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद हुए दंगों पर आधारित है. फिल्म की कहानी और इसका निर्माण हैरी सचदेवा ने किया है. फिल्म मैजिकल ड्रीम्स प्रोडक्शन्स प्राइवेट लिमिटेड के बैनर तले बनाई गई है. यह फिल्म 7 अक्टूबर को रिलीज होगी.