मुंबई. गणपित विसर्जन में भीड़ के बीच में पत्रकारों पर हाथ उठाते हुए कपूर खानदान का एक वीडियो वायरल होने के बाद अब वो सफाइ दे रहें हैं. बता दें कि वीडियो में ऋषि कपूर मीडिया कर्मीयों को धक्का देते हुए और उन पर हाथ उठाते हुए नजर आएं थे.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सूत्रों के मुताबिक एक इंटरव्यू के दौरान ऋषि कपूर ने सफाई देते हुए कहा कहा, ‘जैसे पुलिस लोगों को डंडा दिखाती है, मारती नहीं। उन पर काबू पाने के लिए मैंने उन्हें आगे जाने के लिए इशारा किया. मैंने किसी को नहीं मारा. यह मेरे लिए बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमें दोषी ठहराया जा रहा है। मुझे पता है कि भीड़ से कैसे निपटा जाता है।’ कपूर ने यहां तक ये भी कहा कि अगर उन्होंने किसी के साथ भी ऐसा किया तो उसके सबूत पेश करें. 
 
गौरतलब है कि कपूर खानदान आर.के स्टूडियो में स्थापित गणपति बप्पा का विसर्जन करने के लिए दादर के शिवाजी पार्क पहुंचे थे। उन्होंने मूर्ति विसर्जन के लिए पैदल जाने का फैसला लिया. जहां बारिश में उमड़ी भीड़ के बीच में मीडिया कर्मियों ने जब उनसे फैमिली पोज देने के लिए कहा तो ऋषि अपना आपा खो बैठे और रिपोर्टर को धक्का दे दिया और दो फोटोग्राफर को तमाचे जड़ दिए.