मुंबई. बॉलीवुड के खिलाड़ी कहे जाने वाले अक्षय कुमार आज अपना 49वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं. अक्षय कुमार का जन्मन पंजाब के अमृतसर में हुआ था. उनका वास्तविक नाम राजीव हरी ओम भाटिया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अक्षय कुमार ने उम्र की जिस दहलीज से एक कलाकार के रूप में अपनी पहचान बनाई, वह हर किसी के बस की बात तो नहीं ही है. अक्षय कुमार ने 1991 में आई सौगंध फिल्म से बॉलीवुड में कदम रखा था, उसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा. हालांकि शुरूआत में उन्हें काफी मुश्किल भरे दौर से भी गुजरना पड़ा, लेकिन बचपन से ही जुझारू प्रवृति ने अक्षय को बॉलीवुड का ‘अक्षय’ बनाया.
 
जन्मदिन के इस खास मौक पर हम आपको अक्षय कुमार की उन फिल्मों से रूबरू कराएंगे जिन्हें देखने के बाद हर एक हिन्दुस्तानी का सीना देशभक्ति से चौड़ा हो जाता है. हर एक हिन्दुस्तानी, हिन्दुस्तानी होने पर गर्व करता है.
 
इसकी शुरूआत हम हालिया रिलीज हुई रुस्तम से करते हैं. देशभक्ति के रंग में डूबी रुस्तम को आप सभी ने देखा होगा और आपने महसूस भी किया होगा कि यह फिल्म देश के लिए आपको क्या कुछ सिखाती है. रुस्तम नौसेना अधिकारी केएम नानावटी के वास्तविक जीवन पर आधारित थी, जिसे इंडिया का सबसे बड़ा लव स्कैंडल भी माना गया है. ये कहानी 1950 की थी.
 
एयरलिफ्ट
इसी साल 22 जनवरी को रिलीज हुई एयरलिफ्ट भी सच्ची घटना पर आधारित होने के साथ ही देशभक्ति से आपका सीना चौड़ा करने वाली थी. इस फिल्म में दिखाया गया था कि किस तरह 25 साल पहले खाड़ी युद्ध के समय कुवैत में फंसे करीब 1 लाख 70 हजार भारतीयों को वहां से सुरक्षित निकाला गया था. इस एयरलिफ्ट में एयर इंडिया के सभी विमानों को लगा दिया गया था. उस एयर इंडिया की 488 विमानों ने उड़ानें भरी थीं.
 
बेबी
बाकी फिल्मों की तरह ही देश की सुरक्षा के लिए जूझते अक्षय कुमार की 2015 में रिलीज हुई बेबी फिल्म भी थी. अक्षय ने इस फिल्म में उन लोगों के खिलाफ़ लोहा लिया है जिनकी प्रवृति थाली में छेद करने वाली होती है.
 
हॉली डे
भारतीय सेना को समर्पित हॉली डे 2014 की सबसे बेहतरीन फिल्म थी. इस फिल्म का शानदार डायलॉग आज ही लोगों के जुबान पर है कि ए सोल्जर नेवर इज नेवर ऑफ ड्यूटी.