मुंबई. बीते जमाने की मशहूर गायिका मुबारक बेगम का सोमवार की रात मुंबई में  निधन हो गया. 80 साल की बेगम ने बीती रात करीब साढ़े नौ बजे आखिरी सांस ली. वह काफी समय से बीमार चल रही थीं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मुबारक बेगम को 1950 से 70 के दशक के दौरान फिल्मों के लिए गाए गीतों और गजलों के लिए याद किया जाता है. उन्होंने हमराही, हमारी याद आएगी, जुआरी, देवदास, मधुमती, सरस्वतीचंद्रा, खूनी खजाना, शगुन, अरब का सितारा और रामू तो दिवाना है जैसी फिल्मों के लिए गाने गाए हैं.
 
बेगम ने साल 1961 में आई फिल्म ‘हमारी याद आएगी’ के लिए ‘कभी तन्हाइयों में यूं हमारी याद आएगी…’ जैसा बड़ा ही मशहूर गाना गाया था. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
मुबारक बेगम को अपने आखिरी समय में गरीबी का सामना करना पड़ा था. काम की कमी के कारण उन्हें पैसों की कमी हो गई थी. बेगम का बेटा भी कोई खास काम नहीं करता था, जिसकी वजह से आमदनी का कोई ठोस साधन नहीं था.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App