मुंबई. बॉलीवुड एक्ट्रेस करिश्मा कपूर और बिजनेसमैन संजय कपूर के बीच चल रहे तलाक के मामले में दोनों के बीच समझौता हुआ. सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान आपसी सहमति से अलग होने के लिए तैयार हो गए हैं. अलग होने के बाद दोनों बच्चे समायरा और कियान करिश्मा के पास रहेंगे. संजय जब चाहे बच्चों से आकर मिल सकते हैं.
 
सुप्रीम कोर्ट में हुए समझौते में यह फैसला लिया गया की मुंबई स्थित संजय के पिता का घर करिश्मा के नाम पर ट्रांसफर कर दिया गया है. वहीं यह बात भी सामने आई है कि संजय ने बच्चों के लिए 14 करोड़ रुपए के बॉन्ड्स खरीदे थे, इसका हर महीने 10 लाख रुपए का ब्याज मिलेगा.
 
करिश्मा और संजय के बीच तलाक का मामला इससे पहले मुंबई की एक कोर्ट में चल रहा था. मामला अंत तक पहुंचता इससे पहले दोनों के बीच आरोप-प्रत्यारोप को दौर शुरु हो गया. इस बीच संजय ने कोर्ट से अपील की कि मामले को दिल्ली ट्रांसफर किया जाए, क्योंकि मुंबई में उनकी जान को खतरा है.
 
बता दें कि करिश्मा और संजय आपसी सहमती से तलाक लेने वाले थे. लेकिन नवंबर 2015 में अचानक करिश्मा ने तलाक की अपील से अपनी मंजूरी वापस ले ली. करिश्मा का कहना है था कि तलाक की अर्जी देते समय जो फाइनांशियल कमिटमेंट उनके पति संजय कपूर और उनके बीच हुए थे, वो उन्हें पूरे नहीं किए हैं.
 
इसके बाद फिर संजय कपूर कोर्ट पहुंचे और उन्होंने आरोप लगाया कि करिश्मा ने उनसे सिर्फ पैसों के लिए शादी रचाई. इसके बाद करिश्मा के पिता रणधीर ने कहा कि वह कपूर हैं उनके पास पैसों की कमी नहीं है. लेकिन लंबे आरोप-प्रत्यारोप के दौर के बाद दोनों आपसी सहमती से अलग होने के लिए तैयार हो गए. करिश्मा और संजय की शादी 14 साल पहले हुई था.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App