Thursday, December 1, 2022

पुलिस ने न की होती ये दो गलतियां तो आज ज़िंदा होती श्रद्धा

नई दिल्ली. श्रद्धा हत्याकांड की गुत्थी सुझा रही पुलिस को अब तक कोई ठोस सबूत नहीं मिला है. पुलिस को अब तक न तो श्रद्धा का सर मिला है और न ही इस हत्याकांड में इस्तेमाल हुआ हथियार. ऐसे में, मुंबई पुलिस की जाँच पर सवाल उठ रहे हैं. बीते दिन श्रद्धा की चिट्ठी मिलने के बाद से ही पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं कि इस मामले को गंभीरता से क्यों नहीं लिया गया. वहीं, अब मुंबई पुलिस की एक और चूक सामने आई है.

दरअसल, श्रद्धा के पिता ने बताया कि उन्होंने श्रद्धा के लापता होने की शिकायत सितंबर महीने में ही कर दी थी, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट तो दर्ज कर ली पर दिल्ली पुलिस से इस मामले में संपर्क नहीं किया जबकि पुलिस को पता था कि श्रद्धा आफ़ताब के साथ दिल्ली में है. ऐसे में फिर एक बार मुंबई पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं और कहा जा रहा है कि अगर मुंबई पुलिस ने ये गलती नहीं की होती तो आज श्रद्धा ज़िंदा होती.

कार्रवाई होती तो बच गई होती श्रद्धा की जान

इस मामले में महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उन्होंने श्रद्धा की शिकायत वाले पत्र को देखा है, उनके खिलाफ से अगर पुलिस इस मामले में कार्रवाई करती तो शायद आज श्रद्धा की जान बच जाती. उन्होंने कहा है कि वो इस मामले में जांच करवाएंगे कि आखिर अब तक इस लेटर पर कोई कार्रवाई क्यों नहीं हुई.

इस शिकायत पत्र को लेकर गृहमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मैंने शिकायत पत्र देखा है, इस मामले पर अब तक कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई. मैं बिना किसी पर इलज़ाम लगाए ये कहना चाहूंगा कि इस प्रकार की शिकायत पर तुरंत जांच होनी चाहिए, अगर सही तरीके से जांच होती तो आज श्रद्धा की जान बच जाती.

गलवान पर ऋचा चढ्ढा का विवादित ट्वीट, भड़की बीजेपी बोली- ‘थर्ड ग्रेड एक्ट्रेस पर केस दर्ज हो’

Gujrat: क्या BJP के पास खत्म हो गए हैं मुद्दे?भारत जोड़ो यात्रा में मेधा पाटकर को लेकर हमलावर पीएम

Latest news