करनाल, करनाल में आज आतंकवाद के खिलाफ बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया गया है, जिसमें पाकिस्तानी साज़िश का बड़ा खुलासा हुआ है. पकड़े गए चार आतंकियों को पाकिस्तान के एक आतंकी संगठन से हथियार दिए गए थे, और इसी संगठन ने ही इन लड़कों को वह पता बताया जहां यह ‘आतंक का कंसाइनमेंट’ पहुंचाया जाना था.

करनाल के पुलिस अधीक्षक गंगा राम पुनिया ने बताया कि पकड़े गए युवकों का नाम गुरप्रीत, अमनदीप, परमिंदर, भुपिंदर है. इन चारों की ही उम्र 20 से 25 साल के बीच है. इसमें से तीन फिरोजपुर के रहने वाले हैं जबकि एक हरियाणा का रहने वाला है. ये लोग पंजाब से महाराष्ट्र के नांदेड़ जा रहे थे. इन आतंकियों के तार हरविंदर सिंह उर्फ ​​रिंडा से जुड़े हुए हैं. बता दें कि रिंडा एक वांछित आतंकवादी है जो इस समय पाकिस्तान में छिपा हुआ है.

रची जा रही थी दिल्ली दहलाने की साजिश

करनाल में पुलिस ने चार आतंकियों गिरफतार किया है, पुलिस की प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक ये आतंकी पंजाब से दिल्ली की ओर जा रहे थे, ये आतंकी दिल्ली दहलाने की साजिश रच रहे थे. फिलहाल, चारों महाराष्ट्र भेजा जा रहा था, वहां से इन्हें IED तेलंगाना भेजना था. जहां सामान पहुंचना था वहां का पता इन्हें पाकिस्तान से दिया जा रहा था. इससे पहले भी ये लोग दो जगहों पर IED सप्लाई कर चुके हैं.

बता दें जिस समय पुलिस ने इन्हें पकड़ा, उस समय इनके पास एक देसी पिस्टल, 31 जिंदा और 3 लोहे के बक्से मिले थे. इसमें एक-एक बक्से का वजन लगभग ढाई किलो तक है, साथ ही इनके पास 1 लाख 30 हजार रुपये कैश भी थे.

जानकारी के मुताबिक, करनाल के बस्तर टोल से पुलिस टीम ने एक इनोवा वाहन को पकड़कर चार लोगों को हिरासत में लिया है. फिलहाल यह कार मधुबन थाने में खड़ी है.

 

करनाल आतंकी: चारों आतंकियों का हुआ खुलासा, आतंकी संगठन बब्बर खालसा इंटरनेशनल से जुड़े हैं तार

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर