Friday, February 3, 2023
spot_img

पहले सैलरी नहीं दी, फिर नौकरी से निकाला.. कर्मचारियों ने तंग आकर खाया ज़हर

इंदौर. आम आदमी इस समय दोहरी महंगाई की मार झेल रहा है. एक तरफ खाने-पीने की चीज़ों के दाम आसमान छू रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर एलपीजी के दाम भी बढ़ गए हैं. इसी कड़ी में आज इंदौर में एक दर्दनाक हादसा हो गया, आज सैलेरी नहीं मिलने और नौकरी से निकाले जाने के चलते मजदूरों ने फैक्ट्री के बाहर ही जहर खा लिया. फिलहाल, सभी कर्मचारियों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

क्या है मामला

ये पूरा मामला इंदौर के परदेशीपुरा थाना क्षेत्र का है. कंपनी मॉड्यूलर किचन के सामान बनाने का काम करती है, ये कंपनी 20 सालों से मॉड्यूलर किचन के सामान बनाती है. इस कंपनी में 20 लोग काम करते हैं, इसपर एक कर्मचारी ने बताया कि हाल ही में कंपनी मालिक ने एकसाथ सात कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया. उन्हें ये कहकर निकाला गया कि अब आपकी ज़रूरत नहीं है. सातों कर्मचार पिछले 20 साल से कंपनी में काम करते थे.

जिन कर्मचारियों को कंपनी से निकाला गया है उनमें जमनाधार विश्वकर्मा, दीपक सिंह, राजेश मेमियोरिया, जितेंद्र धमनिया, शेखर वर्मा, देवीलाल करेडिया और रवि करेड़िया शामिल हैं. इस तरह अचानक से निकले जाने से सभी कर्मचारी डिप्रेशन में आ गये, जिसके चलते आज सुबह सभी कर्मचारी कम्पनी के गेट पर पहुंचे और वहां सभी ने एक साथ जहर खा लिया.

साथी कर्मचारियों ने को अस्पताल में भर्ती करवाया गया, फिलहाल सभी की हालत स्थिर बताई जा रही है. इस घटना की जानकारी जैसे ही पुलिस को हुई तो आला-अधिकारी मौके पर पहुंचें, इस मामले में जांच अधिकारी अजय सिंह कुशवाहा का कहना है कि कंपनी में 20 कर्मचारी काम करते हैं और पिछले सात महीनों से कंपनी का काम ठप्प था, कर्मचारियों को मालिक ने सात महीने का वेतन भी नहीं दिया था और सातों कर्मचारियों को बाणगंगा स्थित उनकी दूसरी फैक्ट्री में काम करने के लिए शिफ्ट कर दिया था जिसके चलते सभी ने जहर खा लिया.

 

Latest news